BREAKING NEWS
  • पाकिस्तानी महिला ने इमरान खान को दिखाया आईना, कहा- भारत से लड़ने की औकात नहीं- Read More »
  • रिलायंस जीयो गीगाफाइबर की ब्रॉडबैंड सेवा के लिए ऐसे करें रजिस्‍ट्रेशन - Read More »
  • चेन्नई, कोयंबटूर के बाद अब बेंगलुरु में रोबोट परोसेंगे खाना, ये होगा मेन्यू- Read More »

शिवराज सिंह चौहान ने कहा- हम गिरा नहीं रहे कमलनाथ सरकार, लेकिन खुद गिर जाए तो...

PTI  |   Updated On : June 23, 2019 11:15 PM
शिवराज सिंह चौहान और कमलनाथ (फाइल फोटो)

शिवराज सिंह चौहान और कमलनाथ (फाइल फोटो)

ख़ास बातें

  •  शिवराज सिंह चौहान ने कहा मध्य प्रदेश की सरकार हम नहीं गिराएंगे
  •  शिवराज सिंह चौहान ने एक देश एक चुनाव का किया समर्थक
  •  चौहान ने कहा कि ममता बनर्जी अपना मानसिक संतुलन खो चुकी हैं

नई दिल्ली:  

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि उनकी पार्टी सत्ता से (मप्र में) किसी को बेदखल नहीं कर रही है, लेकिन यदि कांग्रेस की अंदरूनी कलह की वजह से सरकार गिर जाती है तो वह कुछ नहीं कर सकती. चौहान ने यह बात उस वक्त कही, जब उनसे पूछा गया कि क्या भाजपा अगले विधानसभा चुनाव होने से पहले मध्य प्रदेश में सरकार बनाएगी. भाजपा के सदस्यता अभियान के जिला स्तरीय एवं क्षेत्रीय स्तर के प्रमुखों को संबोधित करने के लिए सप्ताहांत में यहां मौजूद थे.

उन्होंने शनिवार शाम पीटीआई को एक इंटरव्यू में कहा, ‘अब, यदि कांग्रेस (सरकार) पार्टी की अंदरूनी कलह से गिर जाती है तो वह कुछ नहीं कर सकते. हम किसी को अपदस्थ नहीं कर रहे हैं लेकिन वहां (मप्र में) जो कुछ चल रहा है, वह अच्छा नहीं है.’

इसे भी पढ़ें: मणिशंकर अय्यर ने कहा- कांग्रेस का अध्यक्ष 'गैर-गांधी' हो सकता है, लेकिन...

गौरतलब है कि मप्र में 15 साल तक सत्ता से बाहर रहने के बाद पिछले साल के आखिर में कांग्रेस की शासन में वापसी हुई, जब विधानसभा चुनाव में उसने भाजपा को हराया.

मप्र के तीन बार मुख्यमंत्री रहे चौहान ने खुद को ‘एक देश, एक चुनाव’ का प्रबल समर्थक बताते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव विभिन्न राज्यों के विधानसभा चुनावों के साथ होना चाहिए क्योंकि लगातार चुनाव होने से देश का विकास पटरी से उतर जाता है. दरअसल, राजनीतिक दल अगले चुनावों की तैयारी में चौबीसों घंटे-सातों दिन लगे रहते हैं.

उन्होंने कहा, ‘मैं जब मुख्यमंत्री था तभी से इस विचार (एक देश, एक चुनाव) का प्रबल समर्थक हूं.'

यह पूछे जाने पर कि क्या ‘एक देश, एक चुनाव’ छोटी पार्टियों के लिए अस्तित्व का संकट पैदा कर देगा, चौहान ने ओडिशा का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां लोकसभा चुनाव-2019 के साथ-साथ विधानसभा चुनाव भी हुए। लोकसभा चुनाव में भाजपा को अधिक वोट मिले जबकि विधानसभा चुनाव में नवीन पटनायक और बीजद को लोगों ने जनादेश दिया.

और पढ़ें: RJD को लगा बड़ा झटका, पार्टी में टूट, नई पार्टी राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक का गठन

पश्चिम बंगाल में चल रहे घटनाक्रम और वहां की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर टिप्पणी करने के लिए कहे जाने पर चौहान ने कहा, ‘वह अपना मानसिक संतुलन खो चुकी हैं और बहुत गुस्सैल हो गई हैं.'

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के बाद बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा समर्थकों के बीच हिंसक झड़प की घटनाएं देखने को मिली हैं.

First Published: Sunday, June 23, 2019 11:14 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Shivraj Singh Chouhan, Kamal Nath Government, Madhya Pradesh,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो