मध्य प्रदेश : जिसने सुना रह गया दंग, घर के बड़े बेटे ने किया ऐसा काम

News State  |   Updated On : January 30, 2020 10:03:12 AM
मध्य प्रदेश : जिसने सुना रह गया दंग, घर के बड़े बेटे ने किया ऐसा काम

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit : News State )

Bhopal:  

मध्य प्रदेश के सागर के मकरोनिया क्षेत्र के आनंद नगर में मंगलवार को दिल दहला देने वाली घटना सामने आई. यहां मकान के बाहर लगे गेट पर ताला लटक रहा था और मकान के अंदर से दुर्गंध आ रही थी. आसपास के लोगों ने शाम करीब पांच बजे मकरोनिया थाने को मकान से दुर्गंध आने की सूचना दी. पुलिस ने मौके पर जाकर दरवाजे में लगा ताला तोड़ अंदर जाकर देखा तो हॉल से लगे कमरे में तीन शव बिस्तर पर पड़े थे. इस घटना से क्षेत्र के लोगों में सनसनी फैल गई. परिवार का एक सदस्य घटना के बाद से लापता है. संदेह है कि उसने ही खाने में जहर मिलाकर पिता, मां और छोटे भाई को मौत के घाट उतार दिया.

पुलिस के मुताबिक तीनों मृतकों की पहचान रामगोपाल पटेल उम्र 40 साल, उसकी पत्नी भारती उम्र 35 साल और पुत्र छोटू पटेल उम्र 16 साल के रूप में की गई है. मृतक रामगोपाल का बड़ा बेटा विकास तीन दिन से लापता है. घटना की सूचना मिलते ही एसपी अमित सांघी मौके पर पहुंचे.

यह भी पढ़ें- RTI से हुआ खुलासा, रेलवे ग्रुप D में पिछले साल मात्र 4700 युवाओं को मिली नौकरी

एफएसएल टीम ने हॉल, कमरे और किचन की तलाशी ली, किचन में रखे तीन बर्तनों में रबड़ी, खीर और गुड़ की चाशनी रखी पाई गई है. बताया गया कि खीर और रबड़ी का रंग नीला पड़ गया था संदेह है कि विकास ने खीर या रबड़ी में जहर मिलाकर मां-बाप और छोटे भाई को खिलाया और मकान के मैनगेट पर ताला लगाकर भाग गया. वहीं घटना के उजागर होने तक शवों से दुर्गंध आने लगी थी,और उनका भी रंग काला पड़ गया था.

एसपी सांघी के मुताबिक कमरे से एक नोट लिखा पेपर मिला है. उसमें लिखा है मैंने जो कृत्य किया है वह क्षमा करने योग्य नहीं है, इसलिए मैं घर छोड़कर जा रहा हूं. पेपर की राइटिंग विकास की राइटिंग से मिलती है, संदेह है कि नोट उसी ने लिखा होगा. सेंपलों की जांच में स्पष्ट होगा, जहर कितना तीव्र था. देरशाम पुलिस ने पंचनामा कारवाकर तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज की मर्चुरी में रखवा दिया है. पुलिस आरोपी की तलाश में दबिश कर रही है.

First Published: Jan 30, 2020 10:03:12 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो