सदन के बाहर एक-दूसरे के खिलाफ धरने पर बैठे सत्ता पक्ष और विपक्ष के नेता

Dalchand  | Reported By : शुभम गुप्ता |   Updated On : July 17, 2019 02:47:33 PM
कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न तोमर

कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न तोमर (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

मध्य प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर विधानसभा के अंदर और बाहर खूब तमाशा देखने को मिला. सदन की कार्यवाही शुरू होते ही मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा किया. विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान बुधवार को शिवराज सिंह चौहान ने सदन में कानून व्यवस्था का मुद्दा उठाया. सदन में विपक्षी दलों के सवालों का जवाब देते हुए कमलनाथ के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने आकाश विजयवर्गीय का जिक्र किया और उलटे बीजेपी पर ही निशाना साधा.

यह भी पढ़ें- नहीं बंद होगी दीनदयाल रसोई योजना, कमलनाथ सरकार ने फैसले से लिया यूटर्न

जिसके बाद सदन में हंगामा और बढ़ गया. फिर बाद में बीजेपी ने इसी मुद्दे को लेकर सदन से वॉकआउट कर दिया. बार-बार हंगामे की वजह से विधानसभा की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी. विधानसभा के बाहर भी सत्ताधारी कांग्रेस के मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर और विपक्षी पार्टी के नेता शिवराज सिंह चौहान धरने पर बैठ गए. चौहान के धरने में स्कूल बच्चे भी नजर आए. इतना ही नहीं, इस दौरान वो एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहे. खाद्य मंत्री प्रदूमन सिंह तोमर ने कहा कि बीजेपी पर सदन की कार्यवाही को न चलने देने के आरोप लगाए. 

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कानून व्यवस्था ऐसे नहीं चलेगी. रेप के बाद निर्मम हत्या कर दी जाती है. एक नहीं अनेकों ऐसी घटना सामने हैं. शिवराज सिंह ने कहा कि इसके लिए ये सरकार दोषी है. चौहान ने आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री और गृह मंत्री ने तबादलों को व्यवसाय बना लिया और अपने राजनीतिक इस्तेमाल के लिए बस तबादले हो रहे हैं.

शिवराज सिंह ने आरोप लगाए कि मौजूदा सरकार में पुलिस के हाथ-पैर बांध दिए गए हैं. हम चुप नहीं बैठेंगे. उन्होंने आरोप लगाए कि सदन में गम्भीर मामले उठाने नहीं दिए जाते हैं. सरकार पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बैठक बुलाते हैं और गृह मंत्री गायब रहते हैं. चौहान ने कहा कि हमने सरकार के रवैये के खिलाफ वॉकआउट किया है. इस दौरान उन्होंने गृह मंत्री के इस्तीफे की मांग की.

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की तबीयत खराब, एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाने की तैयारी

उधर, बीजेपी के आरोपों पर गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा कि सभी जगह समीक्षा मीटिंग ले रहा हूं. पुलिस और गृह मंत्रालय के विषय पर आज चर्चा भी है. उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह ने ट्विटर के माध्यम से जो मामला उठाया है, वो हास्यास्पद और शर्मनाक है. उन्होंने कहा कि पिछले सरकार के मुकाबले अब अपराध में कमी आई है. नरोत्तम मिश्रा के सवाल पर बाला बच्चन ने कहा कि महिलाओं से सम्बंधित अपराधों में भी काफी गिरावट आई है.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Jul 17, 2019 02:47:33 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो