IT Raid: टूरिस्‍ट बनकर आई इनकम टैक्‍स अफसरों की टीम, राज्य के इंटेलिजेंस को भी नहीं लगी भनक

Jitendra Sharma  |   Updated On : April 09, 2019 07:55:38 AM

(Photo Credit : )

भोपाल:  

आयकर विभाग की कई टीमों ने रविवार को मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) , दिल्ली (Delhi) और गोवा (Goa) के 50 ठिकानों पर छापेमारी की. इसमें 500 आयकर अफसर (Income Tax Officer) शामिल हैं. दिल्ली से आयकर विभाग की जो टीम मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में आई है वह पूरी प्‍लानिंग के साथ आई. टीम में शामिल अफसरों ने पहले भोपाल में एक वैन को किराये पर लिया. यह वैन टूरिस्ट के लिए चलाई जाती है.

यह भी पढ़ेंः स्थान 50, अफसर 500, दिल्ली में सीएम कमलनाथ के करीबी आरके मिगलानी के घर पर भी छापा

करीब 3 दिन पहले से यह पूरी प्लानिंग तैयार की गई थी कि टीम को कहां - कहां छापे मार कार्रवाई करनी है. क्योंकि इसके पहले बंगाल में छापामार कार्रवाई के दौरान हुई घटना को ध्यान में रखते हुए टीम ने किसी को भी स्थानीय प्रशासन को भनक भी नहीं लगने दी और राज्य के इंटेलिजेंस को भी पता नहीं चल पाया.

यह भी पढ़ेंः मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर अस्पताल में भर्ती, यह बोले कमलनाथ

बता दें मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण कक्कड़, सलाहकार आरके मिगलानी, भांजे रातुल पुरी , प्रतीक जोशी और अश्विन शर्मा के ठिकाने से करीब 16 करोड़ रुपए मिलने की बात सामने आई है. वहीं शाम को अश्विन शर्मा के घर छापे के दौरान मप्र पुलिस और सीआरपीएफ के बीच टकराव की स्थिति बन गई.

यह भी पढ़ेंः मध्य प्रदेश : होशंगाबाद में 700 हेक्टेयर फसल जलकर खाक, 3 मरे, 17 घायल

इस दौरान मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण कक्कड़, भांजे रातुल पुरी, सलाहकार आरके मिगलानी और प्रतीक जोशी के घर की तलाशी ली गई. सूत्रों नेबताया कि ठोस इनपुट के बाद मध्य प्रदेश के भोपाल-इंदौर, गोवा और दिल्ली में एक साथ देर रात 3 बजे कार्रवाई शुरू की गई. अमिता ग्रुप और मोजर बियर के दफ्तर भी खंगाले गए. मध्य प्रदेश के आयकर अफसरों को कार्रवाई की जानकारी नहीं दी गई थी. दिल्ली की टीम ने मध्यप्रदेश पुलिस की भी मदद नहीं ली. पहली बार सीआरपीएफ को छापेमारी की कार्रवाई में शामिल किया गया.

यह भी पढ़ेंः VIDEO: भोपाल में हाई वोल्ट्रेज ड्रामा, MP पुलिस और सीआरपीएफ में भिड़ंत, IT की छापेमारी जारी

भोपाल में प्लेटिनम प्लाजा की छठी मंजिल पर प्रतीक जोशी और अश्विन शर्मा का आवास है. दोनों ही प्रवीण कक्कड़ के बेहद करीबी माने जाते हैं. यहीं पर दोनों के ऑफिस भी हैं. कक्कड़ के भोपाल में रहने के दौरान दोनों उनसे मिलने आते थे. प्रतीक के घर से बड़ी मात्रा में नकदी जब्त की गई.

First Published: Apr 07, 2019 07:52:24 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो