BREAKING NEWS
  • रिलायंस जियो (Reliance Jio) के 19 रुपये और 52 रुपये वाले रिचार्ज नहीं करा पाएंगे यूजर्स, जानें क्यों- Read More »
  • पुलिसवालों के लिए खुशखबरी, उत्तराखंड सरकार ने भत्तों में बढ़ोतरी का एलान किया- Read More »
  • सुप्रीम कोर्ट ने अश्लील सीडी कांड में ट्रायल पर रोक लगाई, CM भूपेश को नोटिस- Read More »

जितनी ज्यादा वसूली उतना अधिक ईनाम, बिजली चोरी की सूचना देने वाले होंगे पुरस्कृत

IANS  |   Updated On : July 13, 2019 07:47:24 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

मध्य प्रदेश में बिजली चोरी रोकने के लिए बिजली विभाग ने पुरस्कार योजना शुरू की है. सूचना देने वाले को वसूली जाने वाली राशि का 10 प्रतिशत दिया जाएगा. राशि की कोई सीमा नहीं होगी. सरकार की तरफ से शुक्रवार को जारी बयान के अनुसार, मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बिजली चोरी की रोकथाम के लिए इसके अवैध उपयोग की सूचना देने पर निर्धारित शर्तो के अधीन पुरस्कार देने की योजना लागू की है.

यह भी पढ़ें- गोवा और कर्नाटक के बाद मध्य प्रदेश में भी राजनीतिक बदलाव होगा, पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान

बयान के अनुसार, बिजली के अवैध उपयोग-चोरी के संबंध में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा कंपनी मुख्यालय एवं क्षेत्रीय मुख्यालयों के अलावा क्षेत्रीय महाप्रबंधकों को भी लिखित अथवा दूरभाष पर सूचना दी जा सकती है. सूचनाकर्ता की जानकारी गोपनीय रखने की जिम्मेदारी संबंधित अधिकारी की रहेगी. कंपनी के अधिकारी व कर्मचारी को सूचनाकर्ता नहीं माना जाएगा. सूचनाकर्ता को वसूली गई राशि का 10 प्रतिशत दिया जाएगा, जिसका भुगतान कंपनी मुख्यालय से किया जाएगा. प्रोत्साहन राशि सीधे सूचनाकर्ता के बैंक खाते में जमा की जाएगी.

यह भी पढ़ें- ग्रामीणों ने ऐसे प्लान बनाकर छात्राओं को छेड़ने वाले मजनुओं को पकड़ा, फिर जमकर की धुनाई

पुरस्कार योजना के अनुसार, प्रकरण बनाने एवं राशि वसूली करने वाले विभागीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी प्रोत्साहन स्वरूप ढाई प्रतिशत राशि दी जाएगी. कंपनी मुख्यालय में इस योजना के क्रियान्वयन के लिए विजिलेंस सेल गठित किया गया है. इस विजिलेंस सेल को भी सूचना भेजी जा सकती है.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Jul 13, 2019 07:47:24 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो