जिस मकान के लिए आकाश विजयवर्गीय ने चलाया था बल्ला, अब उसे नगर निगम ने ढहा दिया

Dalchand  | Reported By : Aditya Singh/Neeraj Jawliya |   Updated On : July 05, 2019 12:33:24 PM
इंदौर विवादित मकान

इंदौर विवादित मकान (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

इंदौर में जिस मकान के लिए बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और भाजपा विधायक आकाश ने बल्ला चलाया था, आखिर में नगर निगम ने उस मकान को जमींदोज कर ही दिया. 52, 53 नगर निगम रोड गंजी कंपाउंड पर इस विवादित मकान को निगम ने आज सुबह ढहाया. नगर निगम के रिमूवल दस्ते द्वारा यह कार्रवाई की गई. यह वही मकान है जिसे नगर निगम की कार्रवाई के दौरान पूरे देश में सुर्खियां मिली थीं. गंजी कंपाउड के इसी घर को तोड़ने से रोकने के लिए बीजेपी के विधायक आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम के अधिकारी की बल्ले से पिटाई की थी. लेकिन तमाम सियासी उठापठक के बाद विधायक मकान को गिराने से नहीं रोक पाए.

यह भी पढ़ें- इंदौर बैट कांड: आकाश विजयवर्गीय के बाद अब इन नेताओं पर गिर सकती है गाज

गौरतलब है कि इंदौर में नगर निगम की टीम इसी जर्जर मकान को तोड़ने के लिए पहुंची थी. लेकिन बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय ने दखलअंदाजी करके उस समय मकान तोड़ने से रोका था. साथ ही आकाश ने नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीटा था. इस मामले में पुलिस ने आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया था और फिर बाद में जेल भेज दिया था. हालांकि तीन दिन के बाद आकाश विजयवर्गीय को भोपाल की कोर्ट से निजी मुचलके पर जमानत मिल गई थी.

यह भी पढ़ें- दिग्विजय सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह को लिखा पत्र

इस बैटकांड को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नाराजगी जताई थी. जिसके बाद बीजेपी ने आकाश विजयवर्गीय को नोटिस भेजकर इस मामले में जवाब मांगा है. माना जा रहा है कि कुछ समय के लिए बीजेपी आकाश विजयवर्गीय को पार्टी से भी सस्पेंड कर सकती थी. हालांकि अभी तक इस मामले में कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Jul 05, 2019 12:32:49 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो