आकाश विजयवर्गीय को बीजेपी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया

News State Bureau  |   Updated On : July 04, 2019 04:59:29 PM
आकाश विजयवर्गीय फाइल फोटो।

आकाश विजयवर्गीय फाइल फोटो। (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  पीएम मोदी ने संसदीय दल की बैठक में जाहिर की थी नाराजगी
  •  माना जा रहा था आकाश को किया जाएगा सस्पेंड
  •  आकाश ने नगर निगम के अधिकारी को क्रिकेट बैट से पीटा था

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की नाराजगी के बाद अब 'बैटमेन' विधायक आकाश विजयवर्गीय (Akash Vijayvargiya) को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है. बैट कांड के बाद आकाश विजयवर्गीय को बीजेपी सस्पेंड कर सकती थी. हालांकि अभी सिर्फ नोटिस ही दिया गया है.

यह भी पढ़ें- आकाश विजयवर्गीय को बीजेपी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया

पीएम मोदी की नाराजगी के बाद लगा था कि आकाश विजयवर्गीय का साथ देने वाले नेताओं पर पार्टी एक्शन ले सकती है. मंगलवार को संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयर्गीय द्वारा इंदौर नगर निगम के अधिकारी को क्रिकेट बैट से पीटने के मामले में गहरी नाराजगी जताई थी.

यह भी पढ़ें- स्कूली शिक्षा मंत्री के आवास पर पेट्रोल और लाइटर लेकर पहुंचा छात्र, खुद को आग लगाने की कोशिश की

साथ ही पीएम मोदी ने नसीहत देते हुए कहा था कि किसी का भी बेटा हो, लेकिन इस तरह की हरकत नहीं करनी चाहिए, उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा देना चाहिए. मोदी ने कहा था कि हम ऐसा कोई नेता नहीं चाहते जो पार्टी की छवि को खराब करे.

यह भी पढ़ें- 900 किलोमीटर पैदल चलकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने दिल्ली पहुंचे दो बुजुर्ग

मोदी ने जेल से छूटने के बाद आकाश विजयवर्गीय का जोरदार स्वागत करने को लेकर भी पार्टी नेताओं की आलोचना की और कहा कि जिन्होंने उनका स्वागत किया, ऐसे नेताओं को भी पार्टी से बर्खास्त किया जाना चाहिए. लेकिन अब पीएम मोदी की इस सख्ती का असर दिखना शुरू हो गया है.

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में हुई बारिश, मौसम हुआ सुहावना

बीजेपी ने नोटिस जारी किया है और माना जा रहा है कि अब आकाश विजयवर्गीय पर बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा कोई बड़ा एक्शन ले सकते हैं. बता दें कि इंदौर में जर्जर मकानों को तोड़ने के लिए नगर निगम की टीम पहुंची थी. इसी दौरान आकाश ने निगम अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीटा था.

यह भी पढ़ें- पुलिस चौकी बना कुत्ते 'सुल्तान' का आशियाना, पुलिसवाले कर रहे हैं खातिरदारी, जानें क्यों

बल्ले से पीटने के मामले में आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया गया था और बाद में उन्हें जमानत दे दी गई. आकाश के जमानत पर जेल से बाहर आने पर उनके समर्थकों ने भव्य स्वागत किया था और उन्होंने जश्न मनाते हुए हवाई फायरिंग भी की थी.

First Published: Jul 04, 2019 04:44:26 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो