BREAKING NEWS
  • पाकिस्तान में क्यों Hit हो रही हैं JNU की शेहला राशिद, भारतीय सेना के लिए किए थे झूठे Tweets- Read More »
  • अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद से जम्‍मू-कश्‍मीर की क्रिकेट टीम लापता- Read More »
  • पाकिस्‍तान से तनाव के बीच ISI के 4 एजेंट भारत में दाखिल, मचा सकते हैं तबाही- Read More »

मध्य प्रदेश में आज स्वास्थ्य सेवाएं ठप, करीब 3 हजार डॉक्टर्स हड़ताल पर

News State Bureau  |   Updated On : July 17, 2019 08:22 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

मध्य प्रदेश में आज एक बार फिर स्वास्थ्य सेवाएं ठप रहेंगी. प्रदेशभर में अपनी मांगों को लेकर करीब 3 हजार डॉक्टर्स आज हड़ताल करेंगे. मध्य प्रदेश में चिकित्सक संघ की ओर से आज हड़ताल का ऐलान किया गया है. जिसके कारण कुल 13 मेडिकल कॉलेज के 3 हजार डॉक्टर हड़ताल करेंगे. सिर्फ इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर बाकी सभी काम ठप रहेंगे. दरअसल, चिकित्सक संघ की मांग है कि उन्हें एक जनवरी 2016 से बकाया सातवां वेतनमान दिया जाए. इससे पहले सरकार को चेतावनी दी गई थी.

यह भी पढ़ें- श्रीलंका में प्रस्तावित सीता के मंदिर पर मध्य प्रदेश में सियासी घमासान, बीजेपी-कांग्रेस आईं आमने-सामने

ग्वालियर में भी आज डॉक्टर्स सामूहिक अवकाश पर रहेंगे. जयारोग्य अस्पताल में सीनियर डॉक्टर नहीं मिलेंगे. हालांकि इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी. लेकिन सामान्य ऑपरेशन भी नहीं होंगे और ओपीडी भी बंद रहेगी. ग्वालियर जीआरएमसी मेडिकल कॉलेज के साथ 13 सरकारी मेडिकल कॉलेजों की चिकित्सा शिक्षक सातवां वेतनमान, समयबद्ध पदोन्नति और 7 सूत्री मांगों को लेकर अवकाश पर हैं.

यह भी पढ़ें- जान बचाने के लिए पूर्व विधायक ने खुद को ट्रेन के शौचालय में कर लिया बंद, फिर हुआ कुछ ऐसा

चिकित्सक संघ की हड़ताल को देखते हुए कमलनाथ सरकार ने एस्मा लगा दिया है. बता दें कि एस्मा यानि आवश्यक सेवा अनुरक्षण कानून लागू करने से पहले इसे सूचित भी किया जाता है. एस्मा लगने के बाद अगर कोई कर्मचारी हड़ताल पर है तो ये एक दंडनीय अपराध है. एस्मा लागू होने के बाद बिना किसी वारंट के गिरफ्तार किया जा सकता है.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Wednesday, July 17, 2019 08:22:16 AM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Madhya Pradesh, Doctors Strike, Doctors Strike In Mp, Gwalior, Bhopal, Cm Kamalnath,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो