BREAKING NEWS
  • सचिन तेंदुलकर के लिए बेहद खास है आज का दिन, 20 नवंबर 2009 को बनाया था ये चमत्कारी रिकॉर्ड- Read More »
  • यूपी में जनगणना का पहला चरण 16 मई से होगा शुरु, राज्यपाल ने जारी किया आदेश- Read More »

हाजीपुर सेक्टर में भारतीय सेना ने दो पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया, सफेद झंडा दिखाकर पाकिस्तान ने उठाए अपने सैनिकों के शव

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 14, 2019 01:53:32 PM

(Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  पाकिस्तान के सीजफायर उलंग्घन का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब. 
  •  भारत की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के दो सैनिक ढेर.
  •  सफेद झंडा दिखाकर पाकिस्तान ने अपने सैनिकों के शव उठाए.

नई दिल्ली:  

Indian Army Killed two Pakistani Soldiers: भारतीय सेना (Indian Army) ने एक बार फिर से पाकिस्तान (Paksitan) को सीजफायर का उलंग्घन (Ceasefire Violation) करने के लिए सबक सिखाया है. इस बार भारत की ओर से हुई कार्रवाई में पाकिस्तान के दो सैनिक भी मारे गए हैं. पाकिस्तानी सेना (Pakistani Army) ने अपने मारे गए जवानों की बॉड़ी को सफेद झंडा दिखाकर उठाया और अपने साथ ले गई. 

इंडियन आर्मी (India Army) ने भी सफेद झंंडे  (White Flag) का मान रखते हुए पाकिस्तान के सैनिकों पर गोलियां नहीं चलाई और उन्हें अपने साथी सिपाहियों की डेथ (Death Body of Pakistani Soldiers) बाड़ी ले जाने दिया गया. ये पूरा वाकया एलओसी पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ. इस घटना का वीडियो सामने आते ही ये काफी वायरल भी होने लगा है. 

यह भी पढ़ेें: युद्ध से बचना चाहते हो तो POK हमारे हवाले कर दो, रामदास अठावले ने पाकिस्‍तान को दी नसीहत

जारी किए गए वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि पहले एक पाकिस्तानी सैनिक सफेद झंडे के साथ सामने आता है और फिर उसके पीछे से कई और सैनिक आते हैं. पाकिस्तानी सैनिक अपने मारे गए सैनिकों की डेथ बॉडी को उठाकर वापस लेकर चले जाते हैं. 

प्राप्त जानकारी के अनुसार, मारे गए दोनों ही पाकिस्तानी सैनिक पंजाबी थे.

सेना के सूत्रों ने कहा कि 10-11 सितंबर को भारतीय सेना के जवानों ने गुलाम कश्मीर (पीओके) के हाजीपुर सेक्टर में सिपाही गुलाम रसूल को मार गिराया था.  रसूल पाकिस्तान के पंजाब प्रांत बहावलनगर से था. शुरू में पाकिस्तानी सैनिकों ने संघर्ष विराम उल्लंघन को तेज करते हुए शव को बरामद करने की कोशिश की. इस दौरान पाकिस्तान के दूसरे पंजाबी मुस्लिम सैनिक को मार गिराया गया. सेना के सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तानी सेना दो दिनों से लगातार कोशिशों के बावजूद शवों को बरामद नहीं कर सकी. नाकामयाबी हाथ लगने के बाद 13 सितंबर को पाकिस्तानी सेना ने सफंद झंडा दिखाकर अपने सैनिकों के शव हासिल किए. 

इसके पहले पाकिस्तान ने गुरुवार की सुबह भी सीजफायर तोड़ा था. पुंछ जिले के कृष्णा घाटी सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से गोलाबारी की गई. पाकिस्तान की इस गोलाबारी का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया था. दो दिन पहले भी पाकिस्तान ने कृष्णा घाटी सेक्टर में संघर्षविराम तोड़ा था. इस दौरान एक जवान शहीद हो गया था.

इसके पहले ही भारतीय सेना और खुफिया एजेंसियों ने जानकारी दी थी कि पाकिस्तान सीजफायर की आड़ में आतंकवादियों को भारत में घुसाने की कोशिश कर रहा है. लेकिन भारतीय सुरक्षाबलों की चौकसी से अभी तक पाकिस्तान अपनी इस घटिया चाल में सफल नहीं हो पाया है.

यह भी पढ़ेें: इमरान खान जैसी हो गई है PCB की हालत, श्रीलंका दौरे को लेकर सरफराज अहमद ने दिया ये बयान
जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 और 35-ए के हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान की ओर से सीजफायर तोड़ने की घटनाएं बढ़ गई हैं. बता दें कि इस साल 29 अगस्त तक पाकिस्तान 1,889 बार सीजफायर का उलंग्घन कर चुका है. जबकि 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर से धारा 370 और 35-ए के खत्म होने के बाद से पाकिस्तान ने 222 बार सीजफायर तोड़ा है. 5 अगस्त के बाद से पाकिस्तान रोजाना 10 बार की औसत से सीजफायर तोड़ रहा है. इसका मतलब है कि दिन भर में ही 10 बार पाकिस्तान मोर्टार और गोले बारूद दागता है.

जबकि जुलाई के बाद से ही पाकिस्तान ने करीब 300 से ज्यादा बार सीजफायर तोड़ चुका है. जबकि अगस्त महीने में 275 बार सीजफायर का उलंग्घन किया है.

First Published: Sep 14, 2019 10:55:22 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो