हैदराबाद रेप-मर्डर: दुष्कर्मियों के खिलाफ कड़े कानून की मांग को लेकर DCW की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल कल से करेंगी भूख हड़ताल

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 02, 2019 08:20:28 PM
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल (Photo Credit : ANI )

नई दिल्ली:  

हैदराबाद में महिला डॉक्टर से गैंगरेप के बाद गला घोंट कर जिंदा जलाने की घटना से हर कोई आहत है. इस घटना को लेकर पूरे देश में शोक है. इससे आहत दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मंगलवार से आमरण अनशन पर बैठने की घोषणा की है. स्वाति मालीवाल ने रेपिस्टों के खिलाफ कड़े कानून की मांग की है.स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर कहा कि अब बहुत हो गया. 6 साल की बेटी और महिला डॉक्टर की चीखें मुझे 2 मिनट बैठने नहीं दे रही है.

यह भी पढ़ें- विधानसभा में पास हुआ दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बिल, देश के खिलाड़ियों का सपना होगा पूरा

उन्होंने कहा कि रेपिस्ट को हर हाल में 6 महीने में फांसी की सजा मिले. इस कानून को लागू करवाने के लिए मैं कल से जंतर-मंतर पर आमरण अनशन पर बैठ रही हूं. इसके साथ ही उन्होंने आगे लिखा कि तब तक अनशन करूंगी जब तक महिलाओं को सुरक्षा की गारंटी नहीं मिल जाती. बता दें कि स्वाति ने 2018 में रेप के दोषियों को फांसी देने की मांग करते हुए 10 दिन तक अनशन किया था.

यह भी पढ़ें- सपा सांसद आजम खान और पत्नी -बेटे के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, जानें क्या है मामला

केंद्रीय कैबिनेट ने तब अध्यादेश लाया था जिसमें 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ रेप के दोषियों को फांसी की सजा का प्रावधान है. इस घोषणा के बाद स्वाति ने अनशन समाप्त कर दिया था. स्वाती मालीवाल ने कहा कि नन्ही बेटी को ऐसे रेप किया, उसकी आंखें निकल गई. कितना दर्द सहा होगा उसने. ये जानवर रूपी लोग क्यूं हैं देश में. ऐसे ही बेटियां मरती रहेंगी? संसद मौन रहेगा? सड़े हुए भाषण सुनते रहने पड़ेंगे? मेरे अनशन पे बोला था कि जल्द रेपिस्ट को फांसी देना शुरू करेंगे! अब तक नही किया! डूब मरो!

यह भी पढ़ें-VIDEO: झारखंड में अमित शाह ने राहुल गांधी पर किया प्रहार, बोले- 2024 के पहले देश से एक-एक घुसपैठियों को चुन-चुन कर निकालेंगे

बता दें कि हैदराबाद में एक महिला डॉक्टर के साथ गैंगरेप करके उनकी हत्या कर दी गई थी. इस मामले पुलिस ने चार लोगों को पकड़ा है. पुलिस के मुताबिक रात में लड़की का स्कूटी पंक्चर कर दी गई थी. इसके बाद मदद के बहाने आरोपियों ने उसे उठा लिया और फिर उसके साथ गैंगरेप किया और गला दबाकर हत्या कर दी. इतना ही नहीं सबूत मिटाने के लिए सबने मिलकर लड़की को जला दिया. महिला डॉक्टर का आधा जला शव अगले दिन बरामद किया गया था. इस मामले में चारों आरोपियों को गिरफ्तार करके 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

First Published: Dec 02, 2019 08:15:48 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो