पिछले 5 साल में दिल्ली में प्रदूषण संबंधी बीमारियों से 60,000 लोगों की मौत: कांग्रेस

Bhasha  |   Updated On : January 05, 2020 09:50:44 AM
पिछले 5 साल में दिल्ली में प्रदूषण संबंधी बीमारियों से 60,000 लोगों की मौत: कांग्रेस

Delhi Air Pollution (Photo Credit : (सांकेतिक चित्र) )

दिल्ली:  

दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने शनिवार को दावा किया कि राष्ट्रीय राजधानी में पिछले पांच वर्षों में प्रदूषण संबंधी बीमारियों से 60 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हुई है. उन्होंने पूर्वांचलियों की एक सभा को संबोधित करते हुए दावा किया, 'हर दिन सांस लेने की समस्या से 58 लोगों की मौत हो जाती है जबकि राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषित जल के कारण मरने वालों की गिनती मुश्किल है.' उन्होंने कहा, 'शायद आपको पता ना हो लेकिन पिछले पांच वर्षों में लगभग 61,500 लोगों की सांस की समस्याओं के कारण मृत्यु हो गई. दिल्ली में प्रदूषण ने हर सीमा पार कर ली है.'

उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पूर्वांचलियों को यह कहकर अपमानित किया कि वे 500 रुपये का टिकट लेकर दिल्ली में पांच लाख रूपये की मुफ्त चिकित्सा सुविधा प्राप्त करने के लिए आते हैं. दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि केजरीवाल को ‘झूठ’ बोलने की आदत है और वह अपनी हर असफलता का आरोप उपराज्यपाल पर लगा देते हैं.

उन्होंने कहा, 'जब हम 1998 में (दिल्ली में) सत्ता में आए तो लोगों के पास पानी और बिजली की सुविधा नहीं थी. महिलाएं अपने सिर पर घड़ा रखकर पानी लाती थीं. हमनें मेट्रो, फ्लाईओवर, विश्वविद्यालय, अस्पताल और कॉलेजों का निर्माण कराया, सीएनजी की शुरुआत की और दिल्ली को एक हरा-भरा विश्वस्तरीय शहर बनाया.'

और पढ़ें: उम्मीद 2020: अब सड़कों पर दौड़गी बिना ड्राइवर और 5G नेटवर्क वाली कारें

दिल्ली कांग्रेस की अभियान समिति के अध्यक्ष कीर्ति आज़ाद ने कहा कि उनकी पार्टी ने दिल्ली में "पूर्वांचलियों" को घर दिया और आप सरकार उन्हें अनधिकृत कॉलोनियों के मुद्दे पर बेवकूफ बनाती रही है. उन्होंने कहा, '(दिल्ली भाजपा प्रमुख) मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में 80 फीसदी अपराध बाहरी लोगों के कारण होते हैं लेकिन यह भूल गए कि वह खुद बाहरी व्यक्ति हैं.'

First Published: Jan 05, 2020 09:50:45 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो