BREAKING NEWS
  • पति ने मेट्रो के सामने लगाई छलांग तो घर में मां-बेटी ने लगा ली फांसी- Read More »

मुखर्जी नगर मारपीट: क्या इस मामले का पूरा सच जानते हैं आप, इन 3 वीडियो से जानें पूरी हकीकत

News State Bureau  |   Updated On : June 19, 2019 06:34:00 PM

(Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

मुखर्जीनगर में रविवार को टेम्पो ड्राइवर सरबजीत और पुलिसवालों के बीच हुई मारपीट के बाद बवाल थमने का नाम नही ले रहा है. सरबजीत के साथ मारपीट करने के बाद तीन पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया गया लेकिन इसके बावजूद लोगों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है. सिख समुदाय बाकी पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. इस बीच कुछ सामने आए हैं. इन तथ्यों के मुताबिक ये पहली बार नहीं था जब सरबजीत ने किसी के साथ मारपीट की हो बल्कि इससे पहले भी वो कई दफा ऐसा कर चुका है और जेल भी जा चुका है. पुलिस को सरबजीत का क्रिमिनल बैकग्राउंड मिला है. पुलिस को पता चला है कि सरबजीत का आपराधिक बैकग्राउंड है,वो पहले भी झगड़े और मारपीट करता रहा है,उसके खिलाफ पहले से भी केस दर्ज हैं.

यह भी  पढ़ें: मुखर्जी नगर: सिख के साथ मारपीट मामले में एक और Video Viral, पहले पुलिस ने की थी पिटाई फिर....

इतनी बार जेल  जा चुका है सरबजीत

पुलिस के मुताबिक इससे पहले 3 अप्रैल 2019 को सरबजीत सिंह ने बंगला साहिब गुरुद्वारा के सेवादार मंगल सिंह से मार पीट की थी जिसके बाद उसके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई थी. मगल सिंह ने शिकायत में बताया था कि सरबजीत कई दिनों से अपने बेटे के साथ गुरुद्वारे में रह रहा था ,जब उससे नाम पता और गुरुद्वारे में रहने की वजह पूछी गयी तो वो झगड़ा करने लगा और मंगल का हाथ मरोड़कर तोड़ दिया. इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया था. तब उसने अपना पता बुराड़ी लिख वाया था.

यह भी  पढ़ें: Video: दिल्ली के बवाना में 4 साल की बच्‍ची से 45 साल के दरिंदे ने किया Rape, अस्‍पताल में हंगामा

वहीं इससे पहले 2006, 2011 और 2013 में भी सरबजीत के खिलाफ इलाके की शांति भंग करने के आरोप में केस दर्ज हो चुके हैं. इन मामलों के लिए उसके खिलाफ तीन केस दर्ज हुए और जिसके बाद वो जेल भी गया था.

ऐसी ही मारपीट उसने मुखर्जी नगर इलाके में पुलिसवालों के साथ की. इस ममाले की वीडियो वायरल हुआ तो सिख समुदाय के लोगों ने सरबजीत का साथ दिया. मामले को धर्म और राजनीति से जोड़कर बवाल शुरू कर दिया गया.

यह भी  पढ़ें: दिल्लीः सदर बाजार में बारिश के चलते चार मंजिला बिल्डिंग गिरी, मची भगदड़

पुलिस भी धार्मिक विवाद के चलते बैकफुट पर आ गई और बवाल को शांत करने के लिए सिर्फ सरकारी काम में बाधा और मारपीट का मुकदमा ही दर्ज किया, सरबजीत पर और पुलिस पर भी. हालांकि पुलिस पर एक्शन लिया गया, तीन पुलिसकर्मियों को संस्पेंड कर दिया गया, वहीं सरबजीत पर नॉन बेलेबल धाराए लगाई गई हैं लेकिन उसे गिरफ्तार नहीं किया. इस मामले से जुड़ा एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि बवाल के चलते पुलिस सिख प्रदर्शनकारियों के हां में हां मिला रही है. पहले तीन  पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर किया गया था लेकिन लोगों के दवाब बनाए जाने के बाद तीनों पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया.इसी बवाल के चलते अब जांच क्राइम ब्रांच को सौपी गई है.

यहां देखें घटना से जुड़े सभी सिलसिलेवार वीडियोज और खुद तय करें क्या सही है और क्या गलत

पहली वीडियो- ये है पहली वीडियो जब गांड़ी से टक्कर  लगने के बाद  पुलिस और सरबजीत में   बहस हो जाती है और  फिर सरबजीत कृपाण निकालकर पुलिस वाले को धमकाने लगता है. इसके बाद  पुलिसकर्मी अपने दूसरे साथियों को बुलाकर लाता है जिसके बाद सरबजीत फि र कृपाण दिखाकर उन्हें धमकाने की  कोशिश करता है लेकिन इसतने में सादी वर्दी में ए क पुलिसकर्मी सरबजीत को पीछे से पकड़ लेता है और फिर सब मिलकर उसे  पीटने  लगते हैं. इसके बाद  किसी  तरह   सरबजीत खुद छुड़ाता है और उस पुलिसकर्मी पर कृपाण से वार भी करता है. इसके बाद  मौके पर  मौजूद सभी पुलिस  कर्मी सरबजीत को  पकड़कर उस पीटने लगते हैं और उसके बेटे को भी पीटते हैं.

दूसरी वीडियो- घटना के बाद सिख समुदाय के लोग सरबजीत के समर्थन में आगे आते हैं और थाने की घेराबंदी करते हैं

तीसरी वीडियो- सरबजीत के  समर्थन में सिख  समुदाय के लोग पुलिस से भी मुलाकात  करते हैं और सभी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने की मांग करते हैं. वहीं पुलिस भी  हां में हां मिलाती हुई नजर आ रही है.

First Published: Jun 19, 2019 04:51:00 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो