हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस : स्‍वाति मालीवाल ने कड़े कानून की मांग को लेकर आज से शुरू किया अनशन

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : December 03, 2019 10:18:10 AM
रेप के खिलाफ कड़े कानून की मांग को लेकर स्‍वाति मालीवाल आज से अनशन पर

रेप के खिलाफ कड़े कानून की मांग को लेकर स्‍वाति मालीवाल आज से अनशन पर (Photo Credit : ANI Twitter )

नई दिल्‍ली :  

हैदराबाद में गैंगरेप के बाद महिला डॉक्टर की हत्‍या (Hyderabad Gangrape and Murder Case) से हर कोई स्‍तब्‍ध है. देश भर में इस घटना के विरोध में प्रदर्शन किए जा रहे हैं. वहीं, दिल्ली महिला आयोग (DWC) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) इस तरह की वारदात को लेकर कड़े कानून बनाए जाने की मांग को लेकर मंगलवार यानी आज से आमरण अनशन (Hunger Strike) शुरू कर रही हैं. स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर कहा, अब बहुत हो गया. 6 साल की बेटी और महिला डॉक्टर की चीखें मुझे 2 मिनट बैठने नहीं दे रही है.

यह भी पढ़ें : यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन की छात्रा का पाकिस्तान में अपहरण, सकते में इमरान खान सरकार

स्‍वाति मालीवाल ने कहा, रेपिस्ट को हर हाल में 6 महीने में फांसी की सजा मिलनी चाहिए. इस कानून को लागू करवाने के लिए मैं मंगलवार से जंतर-मंतर पर आमरण अनशन पर बैठ रही हूं. मैं तब तक अनशन करूंगी, जब तक महिलाओं को सुरक्षा की गारंटी नहीं मिल जाती. इससे पहले स्वाति ने 2018 में रेप के दोषियों को फांसी देने की मांग करते हुए 10 दिन तक अनशन किया था.

केंद्र सरकार ने उस समय अध्यादेश लाकर 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ रेप के दोषियों को फांसी की सजा का प्रावधान किया था. स्‍वाति मालीवाल ने तब कहा था, 'नन्ही बेटी के साथ ऐसे रेप किया, उसकी आंखें निकल गईं. कितना दर्द सहा होगा उसने. ये जानवर रूपी लोग क्यूं हैं देश में. ऐसे ही बेटियां मरती रहेंगी? संसद मौन रहेगा? सड़े हुए भाषण सुनते रहने पड़ेंगे? मेरे अनशन पे बोला था कि जल्द रेपिस्ट को फांसी देना शुरू करेंगे! अब तक नही किया! डूब मरो!'

यह भी पढ़ें : शरद पवार की दो मांग मान लेते पीएम नरेंद्र मोदी तो महाराष्‍ट्र में होती बीजेपी की सरकार

अब स्‍वाति मालीवाल ने हैदराबाद में गैंगरेप के बाद महिला डॉक्‍टर की हत्या के विरोध में अनशन शुरू किया है. पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को दबोचा है. बताया जा रहा है कि लड़की की स्कूटी पंचर कर मदद के बहाने गैंगरेप किया गया और बाद में गला दबाकर हत्या कर दी गई. सबूत मिटाने के लिए आरोपियों ने पीड़िता को जला दिया था. महिला डॉक्टर का अधजला शव अगले दिन बरामद किया गया था. चारों आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.

First Published: Dec 03, 2019 10:18:10 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो