दिल्ली में प्रदूषण में आई थोड़ी कमी, लेकिन एयर क्वालिटी अब भी गंभीर

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : November 05, 2019 08:44:52 AM
दिल्ली में प्रदूषण

दिल्ली में प्रदूषण (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

दिल्ली में जहरीली हवा का सितम लगातार जारी है. लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है हालांकि मंगलवार को एयर क्वालिटी में थोड़ा सुधार देखने तो मिला है. मौसम की जानकारी देने वाली एजेंसी सफर के मुताबिक प्रदूषण के स्त्र में कमी आई है लेकिन इसे सामान्य स्थिति नहीं कहा जा सकता. दिल्ली में एयर क्वालिटी इंडेक्स 411 दर्ज किया गया है. वहीं बात करें अन्य-अन्य जगहों की तो लोधी रोड पर एयर क्वालिटी 366 द्रज किया गया है. इसके अलावा यूनिवर्सिटी में 510, मथुरा रोड पर 394, पूसा रोड पर 379, नोएडा में 493, गुरुग्राम में 405 चांदनी चौक में 410 और एयरपोर्ट पर 384 दर्ज किया गया है.

वहीं दूसरी तरफ भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि चक्रवाती तूफान ‘महा’ और एक पश्चिमी विक्षोभ से बुधवार और गुरुवार को राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तरी मैदानी हिस्सों में बारिश के आसार हैं जिससे स्थिति में और सुधार होगा.

यह भी पढ़ें: दिल्‍ली के प्रदूषण पर Odd-Even का क्‍या रहा असर, जानें दिन भर का पूरा घटना क्रम

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार सोमवार को प्रदूषण के स्तर में महत्वपूर्ण सुधार हुआ. शाम चार बजे राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 416 दर्ज किया गया जो अब भी ‘गंभीर’ श्रेणी में था. मौसम विशेषज्ञों के अनुसार हवा की रफ्तार में वृद्धि से प्रदूषणकारी तत्वों को दूर दूर तक छिटकने में मदद मिली है.

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली को प्रदुषण से निजात दिलाने के लिए राजधानी में 4 नवंबर से Odd-Een लागू कर दिया है. दिल्ली की केजरीवाल सरकार का दावा है कि Odd-Even फॉर्मूले से प्रदूषण में काफी सुधार आएगा. बता दें राजधानी में odd-even सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक लागू होगा.

इससे पहले आईएमडी के वरिष्ठ वैज्ञानिक कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, 'एयर क्वालिटी में सुधार के दो मुख्य कारण हवा की रफ्तार में बढ़ोतरी और बादलों का छाया नहीं होना हैं. रविवार को दिल्ली का औसत एक्यूआई 494 रहा यह छह नवंबर 2016 के बाद से सर्वाधिक था. उस वक्त एक्यूआई 497 था.

यह भी पढ़ें: दिल्ली में Odd Even नहीं मानने वाले 192 लोगों का अब तक कटा चालान

एक्यूआई 0-50 के बीच ‘अच्छा’, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘मध्यम’, 201-300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘अत्यंत खराब’, 401-500 के बीच ‘गंभीर’ और 500 के पार ‘बेहद गंभीर’ माना जाता है.

मौसम का पूर्वानुमान व्यक्त करने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट वैदर के महेश पलावत के अनुसार दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में छह और सात नवंबर को बारिश के आसार हैं. उन्होंने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ से हवा की रफ्तार और भी बढ़ेगी.

First Published: Nov 05, 2019 08:42:44 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो