BREAKING NEWS
  • अस्पताल में 30 मिनट तक पड़ा रहा मरीज, इलाज न मिलने से चल गई जान- Read More »
  • आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई, यहां बेनामी संपत्ति कानून के तहत करोड़ों की जमीन जब्त- Read More »
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »

दिल्ली-NCR की खराब हवा से निपटने के लिए आज से लागू होगा ये खास प्लान, इन चीजों पर लगेगी रोक

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 15, 2019 09:03:07 AM
दिल्ली में खराब हवा से निपटने के लिए नया प्लान

दिल्ली में खराब हवा से निपटने के लिए नया प्लान (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

दिल्ली-एनसीआर में खराब हवा की परेशानी एक बार फिर शुरू हो गई है. ऐसे में इस समस्या से निपटने के लिए ग्रेडड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान तैयार किया गया है. पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने इस प्लान को आज यानी मंगलवार से लागू करने की घोषणा कर दी है जो 15 मार्च तक लागू रहेगा. इसके तहत चार अलग-अलग चरणों में प्रदूषण की विभिन्न परिस्थिति से निपटा जाएगा. इसके अलावा शादियों में दिल्ली-एनसीआर में डीजल जेनरेटर के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लग जाएगा और प्रदूषण रहित जिग जैग तकनीक नहीं अपनाने वाले ईंट-भट्ठे भी बंद रहेंगे. प्रदूषण जांच केंद्रों को भी सख्ती बरतने के आदेश दे दिए गए हैं

स्थिति को देखते हुए होटल, रेस्तरां और ढाबों में कोयला और लकड़ी जलाने पर रोक लगा दी जाएगी. इसके अलावा हवा की क्वालिटी में सुधार के लिए पानी के छिड़काव और मैकेनाइज स्वीपग जैसे उपाय भी पहले से उठाए जाएंगे.

यह भी पढ़ें: जामिया मिल्लिया इस्लामिया के एक छात्र ने की खुदकुशी, जांच में जुटी पुलिस

बता दें, मंगदलवार को भी दिल्ली के कई इलाकों स्मॉग से ढकी सफी चादर दिखाई दी. अब इसके साथ आने वाले दिनों में प्रदूषण का स्तर बढ़ता जाएगा और लोगों को सांस लेने में परेशानी होगी. इससे पहले बताया जा रहा था कि अगले 24 घंटों में एयर क्वालिडी इंडेक्स 300 तक पहुंच सकता है. रविवार को ये 270 था जो शनिवार से 48 पॉइंट ज्यादा था. स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने लोगों को मास्क पहनकर बाहर निकलने की सलाह दी है. इसी के साथ कुछ दिनों के लिए बाहर टहलने के लिए भी मना किया है.

यह भी पढ़ें: होटल में खेल रहे थे बड़ा जुआ, पुलिस के हत्‍थे चढ़े 58 बड़े बिजनेसमैन

क्यों बढ़ रहा है प्रदूषण? 

दिल्ली के आस-पास के राज्यों में जलाई जा रही पराली राजधानी में बढ़ रहे प्रदूषण की बड़ी वजहों में से एक है. दरअसल इस साल देशभर में मॉनसूनी बारिश सामान्य से 10 फीसदी ज्यादा हुई है. इस बार मॉनसूर देर से आया लेकिन ज्यादा दिनों तक रुका. ऐसे में फसले भी इस बार काफी अच्छी हुईं. अब इस फसलों की पराली को जलाया जा रहा है जिससे दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहा है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक NASA ने 1 से 14 अक्टूबर तक 1645 जगहों पर पराली जलाए जाने की घठना देखी है. इन जगहों में पंजाब, हरियाणा औऱ पाकिस्तान भी शामिल है. इस का असर दिल्ली पर पड़ रहा है क्यों फिलहाल हवा की दिशा दिल्ली की तरफ है.खबरों की मानें तो अगले 24 घंटों में पराली का धुआं दिल्ली को 8-9 फीसदी प्रभावित करेगा. बताया जा रहा है कि एनसीआर के तीन शहरों गाजियाबाद, ग्रेटर नोएडा और नोएडा में हवा बेहद खराब हो चुकी है.

First Published: Oct 15, 2019 09:01:50 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो