कैग ने की दिल्ली सरकार की तारीफ, 5 सालों में रेवेन्यू हुआ दोगुना : केजरीवाल

मोहित बख्शी  |   Updated On : December 03, 2019 07:36:21 PM
अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल (Photo Credit : फाइल )

नई दिल्‍ली:  

दिल्ली विधानसभा सत्र को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने देश की गिरती अर्थव्यवस्था को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है. वहीं सीएम केजरीवाल ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी के कार्यों पर कैग की रिपोर्ट पर खुशी जताई है. केजरीवाल ने कहा कि कैग देश की सबसे बड़ी ऑडिट करने वाली संस्था है. कैग से बड़े-बड़े लोग, नेता और अफसर कांपते हैं. हमारी सरकार बनने से पहले दिल्ली में कैग ने कई घोटालों का पर्दाफाश किया था. केजरीवाल ने बताया कि देश के 70 सालों के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ होगा जब कैग ने किसी राज्य सरकार की तारीफ की है.

दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कैग रिपोर्ट के मुताबिक हम जनता की उम्मीदों पर खरे उतरे हैं पहली बार ऐसा हुआ है जब कोई सरकार 5 सालों से लगातार प्रॉफिट में चल रही हो. केजरीवाल ने आगे कहा कि हम अपने पांच सालों की सत्ता कैग की तारीफों के साथ खत्म कर रहे हैं. केंद्र सरकार ने हमारी पूरी जांच करवा ली, बेडरूम तक भी छान लिया लेकिन मिला कुछ नहीं मिला अगर कुछ भी मिल जाता तो छोड़ते नहीं. केजरीवाल ने आगे कहा जब मुझे कहा जाता है कि आपका विधायक चोरी कर रहा है तो मैं कहता हूं चिंता की बात नहीं है मोदी जी नज़रें बनाये हुए है.

यह भी पढ़ें-लोकसभा के बाद राज्यसभा से पास हुआ SPG Amendment Bill 2019, जानिए क्या हुए बदलाव

केजरीवाल ने कहा जब हम अपनी सत्ता के 5 साल खत्म कर रहे है तो हमारे पास कैग, सीबीआई, ED, ज्यूडिशियरी की क्लीन चिट है. आम आदमी पार्टी भारत के इतिहास के 70 सालों की सबसे ईमानदार सरकार है. जब हमारी सरकार बनी थी तो 30 हज़ार करोड़ का रेवेन्यू था इस बार 60 हज़ार करोड़ का हो गया है. केजरीवाल ने आगे कहा कि बीते 5 सालों में हमने टैक्स के रेट नहीं बढ़ाये रेड रोज खत्म कर दिया. एक राज्य के मुख्यमंत्री ने 190 करोड़ का जहाज खरीदा, मैंने जहाज नहीं खरीदा महिलाओ के बसों की टिकट मुफ्त कर दी.

यह भी पढ़ें-प्रियंका गांधी के आवास में घुसने वाली महिला हैं कांग्रेस कार्यकर्ता, कहा- होमगार्डों पर छोड़ दी गई थी सुरक्षा

केजरीवाल ने नाम लिए बिना गुजरात सरकार और केंद्र सरकार पर हमला बोला, देश की अर्थव्यवस्था डगमगा रही है, रोजगार जा रहे है अगर ठीक से स्थितियों पर काबू नहीं गया तो ये लॉ & आर्डर की समस्या बन जाएगी. दिल्ली में भी रोजगार की दिक्कत है लेकिन हमने पानी बिजली मुफ्त करके पैसे बचा दिए. 5 साल से प्राइवेट स्कूलों को फीस नहीं बढ़ाने दी, मिनिमम वेतन भी बढ़ा दिये. 5 साल में रुपये हमने एक परिवार की जेब में डाल दिये. इसका अर्थ है कि दिल्ली में 30 हज़ार करोड़ को डिमांड पैदा कर दी हमने. केंद्र सरकार कंपनियों का टैक्स कम कर दिया, उनको फायदा पहुंचने से क्या होगा? उससे सिर्फ चंद लोगों को ही फायदा मिलेगा.

First Published: Dec 03, 2019 07:36:21 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो