दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिक का एक डॉक्टर कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया

Mohit Bakshi  |   Updated On : March 25, 2020 09:33:57 PM
Delhi Doctor

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : फाइल )

नई दिल्ली:  

कोरोनावायरस (Corona Virus) का कहर से पूरी दुनिया परेशान है भारत में भी अब तक कोरोना वायरस के संक्रमण के 606 मरीज सामने आ चुके हैं, जबकि कोरोना वायरस ने भारत में 10 लोगों की जान भी ले ली है. बुधवार को दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिक का एक डॉक्टर भी कोरोना वायरस संक्रमण टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है. डॉक्टर के करोना वायरस टेस्ट में पॉजीटिव पाए जाने के बाद से उस इलाके में हड़कंप मच गया है. 

उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुर इलाके में दिल्ली सरकार द्वारा चलवाई जा रहे मोहल्ला क्लीनिक के एक डॉक्टर को कोरोनावायरस (Corona Virus) टेस्ट में पॉजीटिव पाया गया है. जैसे ही प्रशासन को इस बात का पता चला तुरंत इसके नोटिस जारी कर पूरे इलाके में चिपका दिए गए हैं. इसके अलावा इस डॉक्टर ने 12 मार्च से 18 मार्च के बीच जितने मरीजों को मोहल्ला क्लीनिक में चेकअप किया था उन सभी मरीजों के नाम और पता निकाल करके उन्हें भी अगले 15 दिनों के लिए आइसोलेशन होम्स में भेजे जाने का आदेश जारी किया गया है.

सीएम केजरीवाल ने 21 दिनों तक बाहर न निकलने की अपील की
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज एक बार फिर लोगों से अपील की है कि इस स्थिति में घबराने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा, जरूरत की सभी चीजें लोगों को मिलती रहेंगी, इसके लिए अभी से दुकानों पर भीड़ लगाने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा, हम लोगों के घरों तक जरूरत का सामान पहुंचाएंगे. आपको किसी चीज की कमी नहीं होगी.

यह भी पढ़ें-  लॉकडाउन के बावजूद भी देश में थम नहीं रहे कोरोनावायरस के मामले, 606 पहुंचा आंकड़ा

लॉकडाउन के दौरान दिल्ली पुलिस ने दर्ज किए एक हजार से भी ज्यादा मामले
कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के मद्देनजर किए गए लॉकडाउन के पहले दिन दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न क्षेत्रों से इसका उल्लंघन करने को लेकर अब तक 1,012 मामले दर्ज किए. पुलिस ने इस बात की जानकारी दी. कोविड-19 संक्रमण के चलते देश में अब तक कम से कम 10 लोगों की मौत हो चुकी है. एक पुलिस अधिकारी ने सोमवार को कहा कि इनमें से ज्यादातर मामले आईपीसी की धारा 188 और दिल्ली पुलिस अधिनियम के तहत दर्ज किए गए हैं. दिल्ली पुलिस ने बयान जारी कर कहा, 'यह अपराधिक मामले आईपीसी की धारा 188 और दिल्ली पुलिस अधिनियम के सेक्शन 65 और 66 के तहत दर्ज किए गए हैं.'

यह भी पढ़ें-  Corona Virus: 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान बंद रहेंगी ट्रेन सुविधा, रेलवे ने जारी किया नोटिफिकेशन

ज्यादातर मामले सेक्शन 65 और 323 में दर्ज किए गए
दिल्ली पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, 'दर्ज किए गए कुल मामलों में से 100 मामले आईपीसी की धारा 188 के तहत विभिन्न पुलिस थानों में दर्ज किए गए हैं. जबकि 475 दिल्ली पुलिस अधिनियम के सेक्शन 65 और 323 दिल्ली पुलिस अधिनियम के सेक्शन 66 के तहत दर्ज किए गए.' उन्होंने आगे कहा, 'दिल्ली पुलिस अधिनियम के तहत 801 मामले दर्ज किए गए. 15 जिलों में, सबसे अधिक 29 मामले दक्षिण पूर्व जिले में धारा 188 के तहत दर्ज किए गए. इस जिले में दिल्ली पुलिस अधिनियम के तहत सबसे ज्यादा और कुल 211 मामले दर्ज किए गए.'

First Published: Mar 25, 2020 09:01:48 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो