BREAKING NEWS
  • पाकिस्तानी पीएम की पूर्व पत्नी रेहम खान का दावा, इमरान खान को मिलता है अवैध धन- Read More »
  • छोटा राजन का भाई उतरा महाराष्ट्र के चुनावी रण में, इस पार्टी ने दिया टिकट - Read More »
  • IND vs SA, Live Cricket Score, 1st Test Day 1: भारत ने टॉस जीता पहले बल्‍लेबाजी- Read More »

CM भूपेश बघेल ने किया ऐलान, छत्‍तीसगढ़ के किसानों के सिंचाई कर्ज भी होंगे माफ

News State Bureau  |   Updated On : January 26, 2019 01:52:38 PM
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड पर आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह मे

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड पर आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह मे (Photo Credit : )

रायपुर:  

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज सुबह 8.55 बजे राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड पर आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण किया. इसके बाद उन्‍होंने परेड का निरीक्षण किया. इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि सिंचाई कर्ज भी माफ किया जाएगा. करीब 200 करोड़ का कर्ज किया जाएगा इस मद में माफ करने की योजना है. समारोह के बाद बघेल दुर्ग जिले के पाटन के ग्राम असोगा, तेलीगुंड्रा, भनसुली (केसरा) गांवों में कार्यक्रमों में शामिल होंगे. वे रायपुर लौटकर विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे.

राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउंड में ध्वजारोहण करने के बाद मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ की जनता को संबोधित किया. उन्‍होंने कहा कि रबी फसल वाले किसानों को कोई तकलीफ न हो इसलिए हमने रबी फसलों के लिए बन्द पड़ी सिंचाई सेवाओं को तत्काल प्रभाव से पुनः प्रारंभ करने का निर्णय लिया है.  हमने मंत्री परिषद की पहली बैठक में प्रदेश के किसानों से 2500 प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदने का वादा पूरा किया.

केंद्रीय पुल में चावल खरीदी की मात्रा बढाने का निवेदन भारत सरकार से किया गया है लेकिन हमारी मांग नामंजूर होने की स्थिति में भी राज्य सरकार अपनी जिम्मेदारी निभाएगी  किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए हमें स्थाई वयवस्था करनी पड़ेगी और नई योजना बनानी होगी. इसलिए गांवों में विकास के लिए हमने वहां उपलब्ध संसाधनों के वैल्यू एडिशन की नीति अपनाने का संकल्प लिया है और नारा दिया है

"छत्तीसगढ़ के चार चिन्हारी,
नरवा,गरुवा,घुरवा,बाड़ी,
एला बचाना है संगवारी"

हमने पांचवी अनुसूची वाले क्षेत्रों में सरगुज़ा तथा बस्तर संभाग के जिलों की तरह कोरबा जिले में भी जिला कैडर में भर्ती की सुविधा देने का निर्णय लिया है. साथ ही इन सभी जिलों में भर्ती की अवधि दो वर्षों तक बढ़ा दी गई है.  झीरम घाटी की दुःख दायी पीड़ितों को न्याय दिलाने मजबूत कदम उठा कर एसआईटी जांच की घोषणा की है। 

चिटफंड कंपनियों पर अगले माफ कार्रवाई अगले माह पूर्ण कर ली जाएगी. आम जनता को लालफीता शाही तथा सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने से बचाने के लिए " छत्तीसगढ़ लोक सेवा गारंटी अधिनियम " के तहत निर्धारीत समय मे कार्य पूर्ण किये जायेंगे.

पत्रकार सुरक्षा कानून के लिए पहल शुरू की है.  शा. महाविद्यालयों में रिक्त 40 % सहायक प्राध्यापकों के पदों को लोकसेवा आयोग के माध्यम से भरने की प्रक्रिया शुरू हुई है।

वरिष्ठ नागरिकों हमारे समाज के अभिन्न अंग है उनकी देखभाल हमें कर्तव्य भावना से करना है. इसलिए हमने एक नई पहल करते हुए गंभीर रूप से बीमार वयोवृद्ध नागरिकों के रहने तथा उपचार के लिए " पैलेटिव केयर यूनिट " बनाने का निर्णय लिया गया है.

मुख्यमंत्री 26 जनवरी को परेड ग्राउंड में ध्वजारोहण करने के बाद दोपहर 12.30 बजे पुलिस ग्राउंड से हेलीकॉप्टर द्वारा दुर्ग के ग्राम असोगा तेलीगुंड्रा और भनसुली (केसरा) पहुंचकर स्थानीय कार्यक्रम में शामिल होंगे. मुख्यमंत्री 3.40 बजे रायपुर लौटेंगे. वे शाम 5 बजे राजभवन में आयोजित स्वागत समारोह में भाग लेंगे. बघेल शाम 7 बजे महंत घासीदास संग्रहालय में सांस्कृतिक संध्या में शामिल होंगे.

First Published: Jan 26, 2019 09:35:02 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो