BREAKING NEWS
  • Mini Surgical Strike: वीके सिंह का पाकिस्तान को जवाब, बोले- कई बार पूंछ सीधी...- Read More »

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने दो इंजीनियरों का किया अपहरण, अभी तक कोई सुराग नहीं

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 12, 2019 05:01:48 PM
छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने दो इंजीनियरों का किया अपहरण

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने दो इंजीनियरों का किया अपहरण (Photo Credit : फाइल फोटो )

ख़ास बातें

  •  जिले के कुआकोंडा का अरनपुर- जगरगुंडा इलाके में नक्सलियों नें फिर से आतंक मचा रखा है.
  •  नक्सलवाद की राजधानी कहे जाने वाले इस एरिया से दो इंजीनियर का अपहरण कर लिया. 
  •  दोनों इंजीनियरों का अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है.

नई दिल्ली:  

जिले के कुआकोंडा का अरनपुर- जगरगुंडा इलाके में नक्सलियों नें फिर से आतंक मचा रखा है. नक्सलवाद की राजधानी कहे जाने वाले इस एरिया से दो इंजीनियर और एक कंट्रक्शन कम्पनी के मुंशी का नक्सलियों ने अपहरण कर लिया है. दोनों इंजीनियर पीएमजीएसवाय के अरुण मरावी और टेक्निकल इंजीनियर मोहन बघेल हैं. इनके साथ गुप्ता कंट्रक्शन कंपनी के मुंशी का भी अपहरण किए जाने की खबर आ रही है.

बताया जा रहा है कि यह सभी लोग क्षेत्र में सड़क निर्मांण के कार्य के लिए मुलेर गांव पहुंचे थे. इसी दौरान नक्सली ने हमला कर दिया और बंदूक की नोक पर उन्हें अपने साथ ले गए.

यह भी पढ़ें: कोरबा पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, लाइफ लाइन एक्सप्रेस का करेंगे उद्घाटन

अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार, ग्राम मुलेर में सड़क बनाए जाने की तैयारी को लेकर शुक्रवार की दोपहर दंतेवाड़ा से इंजीनयर और मुंशी निकले थे. इसके बाद वे वापस नही आए हैं. अभी तक ये जानकारी आ रही है कि दोनों अभी नक्सलियों के चंगूल में हैं.

पीएमजीएसवाई के वरिष्ठ इंजीनियर सन्तोष नाग ने जानकारी दी कि नक्सलियों द्वारा उनका अपहरण करने की सूचना मिली है. जिसके बाद तुरंत पुलिस को सूचित किया गया लेकिन अभी तक उनकी पतासाजी शुरू नहीं हुई है. ज्ञात हो कि इस इलाके को नक्सलियों की उपराजधानी भी कहा जाता है. उसी इलाके से कुछ वर्ष पूर्व सुकमा के पूर्व कलेक्टर एलेक्स पाल मेनन का भी अपहरण किया गया था.

यह भी पढ़ें: अजहरुद्दीन को पुलिस ने किया गिरफ्तार, लाए गए रायपुर

पालनार-अरनपुर- मुलेर सड़क को तैयार किया जा रहा है. 20 किमी की ये सड़क है. यह सड़क लगभग 6 करोड़ की लागत से तैयार हो रही है. इस सड़क को नक्सली कई बार खोद कर नुकसान पहुंचा चुके हैं. जब भी सड़क को बनाने का प्रयास किया तो प्रशासन को मुंह की खानी पड़ी है. नक्सली क्षेत्र में लगातार सड़क और अन्य अधोसंरचना विकास करते रहे हैं. सड़क निर्मांण के दौरान आगजनी की कई वारदातें इस इलाके में हो चुकी हैं. नक्सलियों द्वारा अपहरण की इस वारदात को लेकर अभी पुलिस की ओर से किसी भी प्रकार की पुष्टी नहीं की गई है.
बता दें कि आज ही छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में नक्सलियों और सुरक्षाबलों की मुठभेड़ भी हुई है. हालांकि सुरक्षाबलों की मुस्तैदी में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई. इस मुठभेड़ में नक्सली अपना सामान छोड़कर भाग निकले.

First Published: Oct 12, 2019 05:01:48 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो