BREAKING NEWS
  • दिल्ली की निचली अदालतों में 3 नवंबर से चल रही वकीलों की हड़ताल खत्म- Read More »
  • Today History: आज ही के दिन WHO ने एशिया के चेचक मुक्त होने की घोषणा की थी, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • Horoscope, 13 November: जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 13 नवंबर का राशिफल- Read More »

गांधी विचार यात्रा के समापन समारोह से सीएम भूपेश बघेल ने BJP-RSS पर किया तीखा वार, कही ये बड़ी बात

IANS  |   Updated On : October 10, 2019 02:01:06 PM
CM Bhupesh Baghel

CM Bhupesh Baghel (Photo Credit : File Photo )

ख़ास बातें

  •  गांधी विचार यात्रा के समापन समारोह से सीएम भूपेश बघेल ने बीजेपी आरएसएस को लिया निशाने पर. 
  •  कहा-गांधी का राष्ट्रवाद वह है जिसमें असहमति को भी सम्मान है, मगर संघ और बीजेपी का राष्ट्रवाद उत्तेजक राष्ट्रवाद है.
  •  गांधी विचार यात्रा का समापन रायपुर में हुआ. 

नई दिल्ली:  

छत्तीसगढ़ (Chhattisgrah) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने बीजेपी (BJP) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के राष्ट्रवाद को उत्तेजक राष्ट्रवाद बताया और साथ ही कहा है कि इस देश में गांधी का ही राष्ट्रवाद बचेगा, क्योंकि उसमें असहमति का भी सम्मान है.
छत्तीसगढ़ में गांधी के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने और ग्राम स्वराज के संकल्प को आगे बढ़ाने के मकसद को लेकर राज्य सरकार गांधी विचार यात्रा निकाली. इस यात्रा का गुरुवार को रायपुर में समापन हुआ.

यात्रा के समापन दिवस की पूर्व संध्या पर बघेल ने कहा कि गांधी का राष्ट्रवाद वह है जिसमें असहमति को भी सम्मान है, मगर संघ और बीजेपी का राष्ट्रवाद उत्तेजक राष्ट्रवाद है. संघ के राष्ट्रवाद में जो भी व्यक्ति अपने विचार व्यक्त करता है या विरोध में विचार रखता है, उसे देशद्रोही राजद्रोही करार दे दिया जाता है.

यह भी पढ़ें: प्याज की कीमतों को लेकर मध्य प्रदेश सरकार गंभीर, अब इतना ही प्याज कर पाएंगे स्टॉक

मुख्यमंत्री से एक मीडिया एजेंसी से कहा कि गांधी के राष्ट्रवाद और सेंध राष्ट्रवाद में जो टकराव की स्थिति बन रही है, उसमें गांधी के राष्ट्रवाद को छत्तीसगढ़ में कैसे स्थापित कर पाएंगे. इस पर उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी का राष्ट्रवाद रचा बसा है छत्तीसगढ़ की जनजीवन और देश के जनजीवन में. गांधी के राष्ट्रवाद में असहमति का भी सम्मान है, मगर संघ का राष्ट्रवाद उत्तेजक राष्ट्रवाद है, कहा जाता है कि अगर आप मुझ से सहमत हैं तो आप को राजपूत ही घोषित कर देंगे और आपको मिटा दिया जाएगा. इस तरह के विचार उत्तेजक राष्ट्रवाद का ही हिस्सा है.

यह भी पढ़ें: सलमान खुर्शीद के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी बोले, कांग्रेस को आत्म अवलोकन की जरूरत है

जब उनसे पूछा गया तो क्या गांधी का राष्ट्रवाद बचेगा, इस पर बघेल ने कहा कि देश में गांधी का ही राष्ट्रवाद बचेगा, क्योंकि वह ऐसा राष्ट्रवाद है जो सभी तरह के विचारक, ऋषि-मुनियों और असहमति रखने वालों के विचारों को भी साथ लेकर चलता है, उनका सम्मान करता है.

बघेल से पूछा गया कि संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा है कि मॉब लिंचिंग विदेशी शब्द है और इससे देश बदनाम हो रहा है. इसे बघेल ने सही ठहराया मगर साथ ही में प्रतिप्रश्न किया, "भागवत बताएं कि उनका राष्ट्रवाद किसका है. क्या देश का राष्ट्रवाद है या यह जर्मनी या इटली का है. उनका राष्ट्रवाद हिटलर और मुसोलिनी से प्रभावित है या नहीं है, सवाल इस बात का है."

First Published: Oct 10, 2019 01:52:02 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो