Chattisgarh : पंचायत चुनाव में हार के बाद प्रत्याशी पर हुआ केस दर्ज, जाने क्या है पूरा मामला

News State  |   Updated On : January 30, 2020 03:34:16 PM
Chattisgarh : पंचायत चुनाव में हार के बाद प्रत्याशी पर हुआ केस दर्ज, जाने क्या है पूरा मामला

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit : (फाइल फोटो) )

Chhattisgarh:  

देश में चुनाव प्रकिया कितनी सुथरी है इस बात का अंदाजा छत्तीसगढ़ पंचायत चुनाव के नतीजे आने के बाद घटे घटना क्रम से मालूम चलता है. बुधवार की सुबह गांव के लोगों ने भानसोज बस स्टैंड चौराहे पर कुकर, मिक्सी पैंट और शर्ट पीस के साथ आधी-आधी शराब की बोतलें लाकर रख दी. देखते ही देखते चौराहे पर वापस किए गए सामान की प्रदर्शनी से हड़कंप मच गया. इस बीच किसी ने पुलिस को भी खबर कर दी.

पुलिस टीम पहुंचने के बाद पता चला कि पंचायत चुनाव के उम्मीदवार मनोहर देवांगन ने वोटरों को लुभाकर अपने पक्ष में वोट देने के लिए किसी को कुकर तो किसी को मिक्सी बांटी थी. शराब और पैंट-शर्ट भी दिए थे. चुनाव में हार जाने पर मनोहर ने लोगों से अपना सामान वापस मांग लिया. इससे नाराज होकर गांव वालों ने दिए हुए सभी सामान की चौराहे पर ही प्रदर्शनी लगा दी.

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश : जिसने सुना रह गया दंग, घर के बड़े बेटे ने किया ऐसा काम

प्रत्याशी के खिलाफ केस दर्ज

पुलिस ने मनोहर देवांगन के खिलाफ मारपीट और धमकी का केस दर्ज कर लिया है. मनोहर फिलहाल फरार है. ग्रामीणों के अनुसार पंचायत चुनाव में चंद्रहास देवांगन और मनोहर देवांगन पंच के लिए चुनाव लड़ रहे थे. दोनों रिश्ते में भाई होने के बावजूद एक दूसरे के आमने-सामने चुनाव मैदान में थे. मनोहर ने अपना प्रचार करने के साथ गांव के कुछ लोगों को अपने पक्ष में करने सामान गिफ्ट किए. चुनाव में मनोहर की हार हुई. नाराज होकर वह बुधवार को सुबह उन लोगों के घर पहुंच गया, जिन्हें उसने सामान गिफ्ट किया था. उसने कुछ घरों में दस्तक देकर उन्हें जगाकर धमकी भी दी. बाद में पुलिस पहुंची और सामान जब्त किया गया.

मामला दर्ज, सामान भी जब्त

आरंग टीआई लेखधर दीवान ने बताया कि भानसोज वार्ड-7 के लोगों ने उम्मीदवार मनोहर देवांगन और उसके भाई के खिलाफ शिकायत की है. पुलिस ने जांच के बाद दोनों भाई के खिलाफ मारपीट, गाली गलौज और धमकी का केस दर्ज किया गया है. लोगों ने सामान को लावारिस छोड़ दिया था, जिसे जब्त कर लिया गया है. आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई.

होगी कार्रवाई 

राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुरराम सिंह ने कहा कि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. हमने रायपुर जिला कलेक्टर से मामले की जांच और विस्तृत रिपोर्ट देने के लिए कहा है. रिपोर्ट आने के बाद नियमों के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी. वैसे चुनाव आदर्श आचार संहिता के नियमों के अनुसार मतदाता को प्रलोभन देने का मामला है. जांच के बाद ही इस पर ज्यादा कुछ कहा जा सकेगा.

First Published: Jan 30, 2020 03:34:16 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो