तेजप्रताप यादव का नीतीश पर आपत्तिजनक बयान, बीजेपी-जेडीयू भड़कीं, राजद ने भी दी नसीहत

IANS  |   Updated On : February 07, 2020 11:25:22 AM
तेजप्रताप यादव का नीतीश पर आपत्तिजनक बयान, बीजेपी-जेडीयू भड़कीं, राजद ने भी दी नसीहत

तेजप्रताप यादव का नीतीश पर आपत्तिजनक बयान, बीजेपी-जेडीयू भड़कीं (Photo Credit : फाइल फोटो )

पटना:  

बिहार (Bihar) के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं. एक बार फिर उनका एक बयान सुर्खियों में है. इसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, जिसमें तेजप्रताप को नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को नीतीश 'कुमारी' और सुशील कुमार मोदी को सुशील 'कुमारी' कहते देखा जा रहा है. इस बयान के सामने आने के बाद तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ना केवल विरोधी नेताओं के निशाने पर आ गए हैं बल्कि राजद के नेता भी उन्हें नसीहत दे रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः चुनावी साल में जुबान की जगह पोस्टरों से वार, पटना में लगे नए पोस्टर, लालू और नीतीश पर निशाना

तेजप्रताप का वीडियो बुधवार का मसौढ़ी का बताया जा रहा है, जहां वे सीएए और एनआरसी के विरोध में आयोजित एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करने पहुंचे थे. तेजप्रताप ने इस दौरान अपने अंदाज में कहा, 'लालू जी तो नीतीश कुमार को 'पलटूराम' नाम दिए थे. हमने भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का नया नामकरण किया है, नीतीश कुमारी. भगवा वाले सुशील कुमार मोदी सुशील 'कुमारी' हैं.' उन्होंने कहा, "इन लोगों ने राते-राते महागठबंधन को तोड़ कर खेला किया और राते-राते विवाह भी कर लिया."

इस दौरान तेजप्रताप ने स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को 'अमंगल पांडेय' बताते हुए कहा कि जब से ये लोग आए हैं, राज्य में अमंगल हो रहा है. तेजप्रताप के इस बयान के गुरुवार को मीडिया में आने के बाद जद (यू) के नेता अजय आलोक ने कहा, 'तेजप्रताप की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. उन्हें पटना नहीं रांची में रहना चाहिए जहां उनका इलाज भी हो जाता.'

यह भी पढ़ेंः रेलवे की इस सुविधा के जरिए ट्रेन में उठा सकेंगे फाइव स्टार होटल जैसा मजा

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा, 'तेजप्रताप को अपनी इस बदजुबानी के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी से माफी मांगनी चाहिए.'

इधर, राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद ने तेजप्रताप के बयान को गलत बताया. उन्होंने कहा कि उनका बयान पूरी तरह से गलत है और उन्हें मयार्दा में रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि राजनीति में ऐसी भाषा का कोई स्थान नहीं है.

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Feb 07, 2020 11:25:22 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो