लाव लश्कर के साथ चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों को देखने पहुंच रहे नेता, लोगों को हो रही दिक्कत

NEWS STATE BUREAU  |   Updated On : June 20, 2019 10:40:37 PM
शरद यादव

शरद यादव (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

बिहार में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से मरने वाले बच्चों की संख्या 117 हो गई है. लेकिन इस स्थिति में भी देश के नेता नेता, अभिनेता और अन्य वीआईपी प्रोफाइल के लोग अस्पताल पहुंच कर मजमा लगाने से बाज नहीं आ रहे हैं. बड़ी संख्या में वाहनों के साथ अस्पताल पहुंच रहे अभिनेता और नेताओं के काफिले से पीड़ितों और मरीजों को कोई राहत तो नहीं ही पहुंच रही, बल्कि और ज्यादा परेशानी हो रही है. गुरुवार को भी शरद यादव और भोजपुरी अभिनेता खेसारी लाल यादव के पहुंचने से अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश : बालू खदान में ट्रक चालक को गोलियों से भूना

वाहनों का काफिला लेकर पहुंचे शरद

लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव गुरुवार को दर्जन भर से ज्यादा गाड़ियों के काफिले के साथ श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) पहुंचे. अस्पताल के बाहर वाहनों की कतार लगने से बीमारों और तीमारदारों का अंदर प्रवेश कर पाना भी मुश्किल हो गया.

स्थानीय खबरों के अनुसार, मरीजों के परिजनों को इससे परेशानी हुई. उनका कहना था कि सहानुभूति और आश्वासन के अलावा उन्हें कुछ नहीं मिल रहा. वहीं, कुछ माता-पिता अपने बच्चे की हालत में सुधार नहीं आने से चिंतित थे.

खेसारी के पहुंचते ही 'सेल्फी' लेने की होड़

मुजफ्फरपुर अस्पताल में लोगों की परेशानी कम नहीं हुई थी कि भोजपुरी अभिनेता और गायक खेसारी लाल यादव भी अपने लाव-लश्कर के साथ पहुंच गए. भोजपुरी के इस सुपरस्टार को देखने के लिए शहर की भीड़ वहां जुट गई.

लोगों के बीच उनके साथ सेल्फी लेने की होड़ मच गई. ऐसे में भीड़ के कारण अस्पताल में अफरा-तफरी जैसी स्थिति हो गई. भीड़ की वजह से मरीजों का इलाज भी कुछ देर के लिए प्रभावित हुआ. यहां तक कि एंबुलेंसों का भी अस्पताल से आना-जाना भी मुश्किल हो गया.

First Published: Jun 20, 2019 04:38:32 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो