सेक्स रैकेट कांडः लड़की ने कोर्ट में कहा, रात में RJD विधायक के पास भेजा जाता था

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 13, 2019 07:30:44 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

बिहार में पिछले दिनों एक सेक्स रैकेट का मामला सामने आया था. इसके तार पटना से लेकर आरा तक जुड़े हुए हैं. नाबालिग पीड़िता (Minor Victim) ने सेक्स रैकेट में आरजेडी के विधायक (RJD MLA) का भी नाम लिया. पीड़िता ने जुलाई में दिए गए बयान में कहा था कि उसे विधायक (MLA) के घर पर भेजा जाता था. पुलिस की जांच में ये सच्चाई सामने आई कि इस सेक्स रैकेट के तार आरजेडी एमएलए अरुण यादव (RJD MLA Arun Yadav) से भी जुड़ते हैं. भोजपुर पुलिस ने इस मामले में कोर्ट में केस डायरी जमा कर दी है और उनकी गिरफ्तारी के लिए कभी भी वारंट जारी हो सकता है.

यह भी पढ़ेंःकश्मीर मुद्दे पर भारत ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान को दिखाई औकात, कही ये बड़ी बात

गौरतलब है कि आरोपी विधायक अरुण यादव की गिरफ्तारी को लेकर भोजपुर पुलिस लगातार दबिश दे रही है. पुलिस सूत्रों के अनुसार, विधायक को पकड़ने के लिए पटना, लसाढ़ी, अगिआंव सहित कई ठिकानों पर छापेमारी की गई. हालांकि, अब तक पुलिस को विधायक का कोई सुराग नहीं मिल सका है. ऐसे में पुलिस मोबाइल सर्विलांस के सहारे भी विधायक की खोजबीन कर रही है. इसके लिए एसआईटी के साथ-साथ डीआईयू टीम की भी मदद ली जा रही है.

बता दें कि बीते 18 जुलाई को पीड़ित लड़की ने 164 के तहत दर्ज कराए गए अपने बयान में कहा था कि लड़कियों को आरा की एक इंजीनियर के आवास पर और होटलों में ले जाया जाता था. इसके बाद बीते 6 सितंबर को इस मामले में पीड़ित किशोरी का दोबारा बयान आरा कोर्ट में दर्ज कराया गया था. इसमें नाबालिग लड़की ने आरजेडी विधायक अरुण यादव का नाम लिया था.

यह भी पढ़ेंःन्यू मोटर व्हीकल एक्ट: बैकफुट पर यूपी पुलिस, अब कागजात चेक करने के लिए नहीं रोकी जाएंगी गाड़ियां; जानें क्यों

गौरतलब है कि आरा टाउन थाना की पुलिस सेक्स रैकेट की संचालिका अनीता, दलाल संजीत और इंजीनियर अमरेश के अलावा सेक्स रैकेट के संचालक संजय यादव उर्फ जीजा को जेल भेज चुकी है. सीआईडी भी अलग से केस की तफ्तीश कर रही है.

First Published: Sep 13, 2019 07:30:44 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो