BREAKING NEWS
  • LIVE: पीएम मोदी की अपील पर एकजुट हुआ देश, कोरोना के खिलाफ रात 9 बजे दीप जलाने को तैयार- Read More »

बिहार पुलिस ने कन्हैया कुमार को भितिहरवा आश्रम से किया गिरफ्तार, करने वाले थे 'सविधान बचाओ यात्रा' की शुरुआत

  |   Updated On : January 30, 2020 12:46:58 PM
बिहार पुलिस ने कन्हैया कुमार को भितिहरवा आश्रम से किया गिरफ्तार

कन्हैया कुमार (Photo Credit : File Photo )

ख़ास बातें

  •  बिहार पुलिस ने जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार को किया गिरफ्तार. 
  •  पुलिस ने कन्हैया कुमार को भितिहरवा आश्रम से गिरफ्तार किया है.
  •  बताया जा रहा कन्हैया कुमार संविधान बचाओ रैली की शुरुआत करने जा रहे थे.

पटना:  

जेएनयू (Jawaharlal Nehru University) के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) को बिहार पुलिस (Bihar Police) ने गिरफ्तार कर लिया है. सूत्रों के अनुसार पुलिस ने कन्हैया कुमार को भितिहरवा आश्रम से गिरफ्तार किया गया है. इस पूरे मामले को लेकर जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक कन्हैया कुमार ‘संविधान बचाओ-नागरिकता बचाओ यात्रा की शुरूआत करने वाले थे. इसके पहले जेएनयू के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर देश में हिंदू और मुस्लिम समुदायों के बीच टकराव पैदा करने का आरोप लगाते हुए कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) आग में तेल डालने का काम कर रहा है. वह महाराष्ट्र के परभणी के पाथरी में मंगलवार को सीएए और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ रैली को संबोधित कर रहे थे.

यह भी पढ़ें: बिहार: प्रशांत किशोर ने नीतीश को कहा 'झूठा', दोनों के बीच बढ़ी तकरार

राकांपा के विधान पार्षद अब्दुल्ला दुर्रानी ने इसका आयोजन किया था. कन्हैया कुमार ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी और अमित शाह ने गुजरात चुनावों के दौरान हिंदू और मुस्लिमों के बीच टकराव पैदा करने की कोशिश की थी. अब वही हथकंडा वे देश में आजमा रहे हैं. उन्होंने कहा कि नागरिकों को धार्मिक टकरावों को परे रखना चाहिए और बेरोजगारी तथा अर्थव्यवस्था की बदहाल स्थिति को लेकर मौजूदा सरकार से सवाल पूछना चाहिए.

यह भी पढ़ें: बिहार : JDU की मंगलवार को अहम बैठक, प्रशांत किशोर को बुलावा नहीं

पश्चिम चंपारण के बापूधाम से शुरू होकर यह यात्रा पटना के गांधी मैदान में 29 फरवरी को खत्म होनी थी. इसी दिन गांधी मैदान में सीएए-एनआरसी और एनपीआर के विरोध में महारैली का आयोजन होना था. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस यात्रा की शुरुआत से पहले कन्हैया एक सभा को भी संबोधित करने वाले थे लेकिन चंपारण के एसडीएम ने कन्हैया कुमार को पब्लिक मीटिंग की अनुमति नहीं दी गई है.

First Published: Jan 30, 2020 12:07:03 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो