भगवान राम का प्रमाण मांगने वालों को अपना प्रमाण देने में परेशानी- गिरिराज

News State Bureau  |   Updated On : January 16, 2020 03:13:35 PM
भगवान राम का प्रमाण मांगने वालों को अपना प्रमाण देने में परेशानी- सिंह

भगवान राम का प्रमाण मांगने वालों को अपना प्रमाण देने में परेशानी- सिंह (Photo Credit : फाइल फोटो )

बेगूसराय:  

केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के 'फायरब्रांड' नेता माने जाने वाले गिरिराज सिंह ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर विराधियों पर निशाना साधा है. बिहार (Bihar) के बेगूसराय से बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह ने कहा कि भगवान राम का प्रमाण मांगने वाले को अब अपना प्रमाण देने में परेशानी हो रही है.

यह भी पढ़ेंः विपक्ष ने सीएए विरोधी दंगे कराए, जेएनयू हिंसा पर केजरीवाल ने मुकदमे से मना किया- शाह

अपने बयानों से चर्चित रहने वाले बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह ने एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा, 'भगवान राम का प्रमाण मांगने वाले को अब अपना प्रमाण देने में परेशानी हो रही है. एनआरसी को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है. विपक्ष को रोहिंग्या मुसलमान की नागरिकता की चिंता है. भारतवंशियों को एक करने वाले सीएए पर कोई सवाल नहीं है.' उन्होंने कहा कि लोग जमीन पर CAA से सहमत है और कांग्रेस की देश तोड़ने की  साजिश को समझ रही है.

गौरतलब है कि सांसद गिरिराज ट्विटर के माध्यम से लगातार विरोधियों पर निशाना साधते रहे हैं. गुरुवार को बीजेपी सांसद ने बेगूसराय के रानी गांव में लोगों के साथ CAA पर चर्चा में भाग लिया. इसके अलावा वो कई और जगहों पर CAA पर जन जागरण में पहुंचे.

यह भी पढ़ेंः चारा घोटाला केसः लालू प्रसाद यादव सीबीआई कोर्ट में पेश हुए

इससे पहले शनिवार को उन्होंने कहा कि भारत में जो काम मुगलों और अंग्रेजों ने नहीं किया, वह काम राहुल गांधी और टुकड़े-टुकड़े गैंग के लोग कर रहे हैं. उन्होंने कहा था, 'कांग्रेस ने जो पाप किया है, बीजेपी सरकार उसे धोने का काम कर रही है. राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी देश में भ्रम फैला कर डर का वातावरण बना रहे हैं. यह सब कांग्रेस के दोगली नीति का ही परिणाम है. कांग्रेस पार्टी ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन स्वीकार किया, विभाजन के पाकिस्तान में बसे हिन्दू, सिख, ईसाई, जैन, बौद्ध, पारसियों पर अत्याचार होते रहे. बहन, बेटियों की इज्जत लूटी गई, भय दिखाकर जबरन धर्मातरण कराया गया, जिसके परिणामस्वरूप इनकी आबादी 23 प्रतिशत से घटकर तीन प्रतिशत पर पहुंच गई.' उन्होंने सवालिया लहजे में कहा था कि क्या कांग्रेस को उत्पीड़न नहीं दिखाई देता, क्या कानून बनाने का उनका इरादा ढकोसला मात्र था.

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Jan 16, 2020 03:13:35 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो