वनरक्षियों की एक तिमाही पदों पर पहली बार महिलाओं की नियुक्ति- उपमुख्यमंत्री

News State Bureau  |   Updated On : January 23, 2020 05:54:59 PM
वनरक्षियों की एक तिमाही पदों पर पहली बार महिलाओं की नियुक्ति- उपमुख्यमंत्री

वनरक्षियों की एक तिमाही पदो पर पहली बार महिलाओं की नियुक्ति- डिप्टी CM (Photo Credit : फाइल फोटो )

पटना:  

बिहार (Bihar) के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने बताया कि वर्ष 2019-2020 में वन विभाग का बजट 501 करोड़ है. इसके अतिरिक्त कैंपा फंड का 140 करोड़ भी 1 वर्षों में खर्च किया जाएगा. उन्होंने कहा कि नवनियुक्त वनरक्षियों को जंगल, जीव-जंतु व वन्य क्षेत्र में रहने वाले जनजातियों के प्रति ममत्व का भाव होना चाहिए, जिससे निष्ठापूर्वक कर्तव्यों का निर्वहन कर सकें. सुशील मोदी (Sushil Modi) ने कहा कि बिहार में पहली बार वनरक्षियों के पद पर महिलाओं की नियुक्ति की गई है. नवनियुक्त वनरक्षियों में एक तिहाई महिलाएं नियुक्त हुई हैं. साथ ही इसमें 40 दिव्यांगजनों का भी चयन हुआ है.

यह भी पढ़ेंः नीतीश कुमार की फटकार पर पवन वर्मा बोले- पहले खत का जवाब दें, फिर लूंगा फैसला

पटना के ज्ञान भवन में आयोजित नवनियुक्त वनरक्षियों के उन्मुखीकरण प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सुशील कुमार मोदी ने कहा कि वनरक्षियों की परीक्षा, परिणाम व चयन रिकार्ड समय में हुआ है. साथ ही यह परीक्षा कदाचार मुक्त, आरोपमुक्त एवं कोर्ट के चक्कर से भी मुक्त रहा है. 902 वनरक्षियों के रिक्तियों के विरुद्ध 879 का चयन हुआ जिसमें 848 वनरक्षियों ने योगदान किया है. मोदी ने बताया कि बिहार सरकार जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत 3 वर्षों में 24,524 करोड़ की लागत से सभी प्राकृतिक जलश्रोतों का जिर्णोद्धार कर रही है. जिसमें 1.32 लाख तालाब व 3 लाख कुओं को चिन्हित किया गया है. साथ ही 50 हजार हैक्टेयर में चेक डैम का निर्माण व 8 करोड़ पौधारोपण किया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः चुनावी साल में पोस्टर पॉलिटिक्स, राजद ने बीजेपी-जदयू की सरकार पर किया कटाक्ष

डिप्टी सीएम ने बताया कि 9 अगस्त 2020 को बिहार पृथ्वी दिवस के अवसर पर एक दिन में 2.51 करोड़ पौधारोपण किया जाएगा. इस हेतु 15 करोड़ पौधे नर्सरियों में तैयार किया जा रहा है. साथ ही पौधारोपण में 3 फीट से उंचे पौधे का उपयोग किया जाएगा. भवन, सड़क और पुल-पुलियों के निर्माण की जद में आने वाले पेड़ों को कटने से बचाने हेतु प्रत्येक परियोजना में वृक्ष संवर्धन विज्ञानी को नियुक्त किया जाएगा. जो पेड़ों की इनवेंटरी तैयार कर डिजाइन और एलाइनमेंट को परिवर्तित करेंगे. शेष बचे पेड़ों को रिलोकेटेड किया जाएगा.

First Published: Jan 23, 2020 05:54:59 PM

RELATED TAG:

न्यूज़ फीचर

वीडियो