BREAKING NEWS
  • Today History: आज ही के दिन मदर टेरेसा को शांति के लिये नोबेल पुरस्कार दिया गया था, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • रामपुर में आज एक बार फिर आमने-सामने होंगे आजम खान और जया प्रदा- Read More »
  • शोएब अख्‍तर बोले, सौरव गांगुली मुझसे डरते नहीं थे, लेकिन फिर ये क्‍या कह दिया- Read More »

मुजफ्फरपुर दौरे के बाद CM नीतीश कुमार ने जारी किए निर्देश, SKMCH 2500 बेड वाला अस्पताल बनेगा

News State Bureau  |   Updated On : June 18, 2019 04:54:37 PM
सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  सीएम नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर का किया दौरा, मरीजों की जानी हालचाल
  •  सीएम नीतीश कुमार ने एसकेएमसीएच अस्पताल को बड़ा बनाने के दिए निर्देश
  •  25 सौ बेड वाला बनेगा एसकेएमसीएच, वर्तमान में है 610 बेड वाला अस्पताल 

नई दिल्ली:  

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम से अबतक 100 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है और कई बीमार बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं. आज यानी मंगलवार को सूबे के मुखिया नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने मुजफ्फरपुर के दौरे पर गए और श्री कृष्णा मेडिकल कॉलज और अस्पताल (SKMCH) में पहुंचकर मरीजों की स्थिति जानी और कुछ दिशा-निर्देश जारी किए. इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मीडिया से रूबरू होते हुए कहा, 'प्रभावित क्षेत्रों का पर्यावरण अध्ययन किया जाना चाहिए और इसका विश्लेषण किया जाना चाहिए.'

नीतीश कुमार ने बताया कि अस्पताल में बेडों की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया गया है. अस्पताल को 2500 बेड वाला अस्पताल (वर्तमान में 610 वाला वेड है) बनाने के लिए निर्देश दिए गए हैं. 1500 बेड की व्यवस्था पहले चरण यानी तुरंत की जाएगी. इसके अलावा रिश्तेदारों और परिवारों के लिए एक 'धर्मशाला' भी बनाई जाएगी.

बता दें कि जानलेवा बीमारी के चरम पर पहुंचने के 18 दिन बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मुजफ्फरपुर का दौरा किया. इस दौरान वहां पर लोगों ने जमकर उनका विरोध किया. लोगों ने नीतीश वापस जाओं के नारे लगाए. बच्चों की मौत से बिखरे और नाराज लोगों ने नीतीश मुर्दाबाद और हाय-हाय के नारे लगाए.

इसे भी पढ़ें: SP के इस मुस्लिम सांसद ने संसद में वंदे मातरम का नारा लगाने से किया मना, कहा-इस्लाम के खिलाफ

वहीं, विपक्ष ने भी नीतीश कुमार पर निशाना साधा. आरजेडी नेता राबड़ी देवी ने ट्वीट करके कहा, 'बिहार में डबल इंजन की सरकार है. इतनी मौतों के बाद अब केंद्र और प्रदेश के मंत्री क्या नृत्य करने चार्टर फ़्लाइट्स से मुज़फ़्फ़रपुर जा रहे है? जब अस्पताल के दवाखानों में दवा की जगह कफ़न रखे है, डॉक्टर नहीं है तो क्यों नहीं बीमार बच्चों को Air-Ambulance से दिल्ली ले जाते?'

First Published: Jun 18, 2019 04:46:18 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो