समधी चंद्रिका राय ने लालू प्रसाद यादव को दिया बड़ा झटका, थाम सकते हैं इस पार्टी का दामन

Bhasha  |   Updated On : February 14, 2020 08:01:48 AM
समधी चंद्रिका राय ने लालू प्रसाद यादव को दिया बड़ा झटका

समधी चंद्रिका राय ने लालू प्रसाद यादव को दिया बड़ा झटका (Photo Credit : File Photo )

पटना:  

लालू प्रसाद के समधी चंद्रिका राय ने गुरुवार को राजद छोड़ने का एलान कर दिया और ऐसा माना जा रहा है कि उनका अगला पड़ाव बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू होगी. चंद्रिका राय ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि वे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काम से प्रभावित हैं और उनमें उनका पूरा विश्वास है. उन्होंने नीतीश से हाल ही में मुलाकात कर "राजनीतिक स्थिति पर चर्चा" करने की बात स्वीकारते हुए कहा कि वह अपने अगले राजनीतिक कदम के बारे में सभी को उचित समय पर सूचित करेंगे .

यह भी पढ़ें : किसी भी मुसलमान को हिरासत शिविर में भेजने पर विशाल जनांदोलन होना चाहिए: चिदंबरम

चंद्रिका प्रसाद ने यह भी आरोप लगाया कि अब राजद को "एक छोटी सी मंडली" नियंत्रित कर रही थी, जिससे कई वरिष्ठ नेता नाराज़ हैं. चंद्रिका ने यह भी दावा किया कि राजद के कई और विधायक विधानसभा चुनाव के समय पार्टी को छोड़ सकते हैं. पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा राय के पुत्र और बिहार के परसा विधानसभा क्षेत्र से विधायक चंद्रिका राय का राजनीतिक जीवन तीन दशक का है. चंद्रिका राय ने निर्दलीय और कांग्रेस एवं राजद के नेता के रूप में काम किया है.

यह भी पढ़ें : किसकी मौत पर शुरू हुई थी Valentine Day मनाने की प्रथा, जानें क्या है पूरी कहानी

चंद्रिका राय ने अपनी बेटी ऐश्‍वर्या की शादी लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप की थी, लेकिन इस समय दोनों के बीच संबंध ठीक नहीं चल रहे हैं और तलाक का मुकदमा विचाराधीन है. राबड़ी देवी और मीसा भारती ने भी ऐश्‍वर्या को लेकर तीखी बयानबाजी की थी. बाद में ऐश्‍वर्या को घर से बाहर भी निकाल दिया गया था.

चंद्रिका राय ने बेटी ऐश्‍वर्या को ससुराल से निकाले जाने के बाद कहा था, 'उन्‍हें शर्म आती है कि ऐसे घर में बेटी कर रिश्‍ता किया, जहां उसे शादी के बाद से टॉर्चर किया जा रहा है. जब तक बेटी को न्याय नहीं मिलता तब तक वो यहां से नहीं जाएंगे.' चंद्रिका राय राष्ट्रीय जनता दल के नेता हैं और बिहार की सारण सीट से इसी साल लोकसभा का चुनाव भी लड़े थे. हालांकि उन्‍हें हार का सामना करना पड़ा था. इससे पहले पहली बार मीडिया के सामने आईं ऐश्‍वर्या राय ने कहा, मुझे खाना तक नहीं दिया जा रहा था. उन्‍होंने अपनी सास और बिहार की पूर्व मुख्‍यमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो काफी उत्‍पीड़न कर रही थीं.

यह भी पढ़ें : दिल्ली चुनाव में 'देश के गद्दारों, भारत-पाकिस्तान मैच' जैसे बयानों से भारी नुकसान हुआ: अमित शाह

इससे पहले ऐश्‍वर्या राय ने लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती पर आरोप लगाते हुए कहा था, उन्‍हें किचन में एंट्री नहीं दी जाती थी. जून महीने से खाना नहीं दिया जा रहा था. पिता के घर से ऐश्‍वर्या के लिए खाना आता था. नवरात्र के दिन जब ऐश्‍वर्या ने पानी पीने के लिए किचन की चाबी मांगी तो मीसा भारती ने राबड़ी देवी के सामने उन्हें जलील किया.

First Published: Feb 14, 2020 07:49:44 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो