बिहार के मंत्री और विधायकों में कोरोना वायरस से जंग लड़ने में सहयोग देने की लगी होड़

Rajnish Sinha  |   Updated On : March 26, 2020 10:47:16 AM
Corona Virus

मंत्री और विधायकों में कोरोना से जंग लड़ने में सहयोग देने की लगी होड़ (Photo Credit : फाइल फोटो )

पटना:  

बिहार (Bihar) में जन प्रतिनिधियों को अब जिम्मेवारी का अहसास हुआ है. उन्हें लगने लगा है कि वो भी इस संकट की घड़ी में अपना योगदान दे सकते हैं सो जो तमाम दल हर मुद्दे पर एक दूसरे के खिलाफ होते थे, अब कोरोना वायरस (Corona Virus) से लड़ाई लड़ने में खास सहयोग दे रहे हैं. कई मंत्री और विधायक अपने एक महीने का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का ऐलान कर रहे हैं. सत्तारूढ़ दल जदयू से पहले मंत्रियों, एमएलसी और प्रदेश अध्यक्ष ने शुरुआत की.

यह भी पढें: सभी राशन कार्डधारी परिवारों को एक-एक हजार रुपये देगी नीतीश सरकार

ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने एक माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में दान दिया तो इनके साथ जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह ने मुख्यमंत्री राहत कोष में एक माह का वेतन देने की घोषणा की. जदयू कोटे से ही आने वाले मंत्री महेश्वर हजारी और आईटी मंत्री जय कुमार सिंह ने भी मुख्यमंत्री राहत कोष में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए एक माह का वेतन दिया है. जदयू के एमएलसी खालिद अनवर ने भी एक माह का वेतन कोरोना से जंग के लिए दिया है.

तो सरकार में सहयोगी भाजपा भी आगे आई है. कला संस्कृति मंत्री प्रमोद कुमार ने एक महीने के वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया तो बीजेपी विधायक जीवेश मिश्रा ने विधायक फंड से 25 लाख रुपये की अनुशंसा की है. 

यह भी पढें: गुजरात से बिहार लौटे युवक में मिला कोरोना वायरस, राज्य में मामलों की संख्या 4 हुई

इधर, विपक्ष ने भी इस महासंग्राम में अपनी उपस्थिति दर्ज करानी शुरु की है. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और एमएलसी मदन मोहन झा ने दरभंगा शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के अधीन आने वाले दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर और बेगूसराय के लिए 2-2 लाख रुपये की राशि दी है. साथ ही अपने एक महीने का वेतन भी मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया है. कप्तान को देख इनके साथ कांग्रेस विधायक बंटी चौधरी ने एक माह के वेतन के साथ 25 लाख की राशि सहायता राशि देने की घोषणा कर दी है.

लालू प्रसाद यादव ने अपनी पार्टी राजद के नेताओं को सहयोग देने का पहले ही आदेश दिया है सो अब राजद के विधायक सैयद अबू दोजाना ने भी एक महीने का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया. राजद के दूसरे विधायक मोहम्मद नेमतुल्लाह ने 25 लाख की राशि विधायक फंड से दी है. राजद के ही विधायक शक्ति यादव ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए अपने विधायक निधि फंड से 50 लाख देने की अनुशंसा की है. उम्मीद है कि कोरोना से इस जंग में और लोग आगे आएंगे. आखिर में इस बीमारी पर हम जीत हासिल कर पाएंगे.

यह वीडियो देखें: 

First Published: Mar 26, 2020 10:47:16 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो