BREAKING NEWS
  • 5 साल में देश को लूटने वालों को जेल भेजा, अब उनसे पाई-पाई वसूली जाएगी; पुणे में बोले पीएम नरेंद्र मोदी- Read More »

बिहार में दिमागी बुखार ने मचाई तबाही, एक हफ्ते में 56 बच्चों की मौत

News State Bureau  |   Updated On : June 12, 2019 11:07:18 AM
प्रतिकात्मक तस्वीर

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

हर साल गर्मियों के महीने में दिमागी बुखार की बीमारी कई बच्चों की जान ले लेती है. इस साल भी कुछ यही हाल है. मुजफ्फरपुर जिले में ये बीमारी इस वक्त तबाही मचा रही है जहां एक हफ्ते के भीतर 56 बच्चों की मौत हो गई है. इतना ही नहीं पिछले 24 घंटों में ये बीमारी 6 मासूम बच्चों को निगल चुकी है. मुजफ्फरपुर के अलावा आसपास के इलाकों में भी चमकी यानी दिमागी बुखार का कहर जारी है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एक हफ्ते के अंदर तकरीबन 75 से ज्यादा दिमागी बुखार के मामले सामने आ चुके हैं. रविवार को महज 12 घंटे के अंदर दिमागी बुखार के 23 मामले सामने आए थे जिसमें से तीन मरीजों की मौत हो गई है और 2 मरीज मृत अस्पताल लाए गए थे. वहीं सोमवार को इस बीमारी की वजह से 20 बच्चों की जान चली गई. दिमागी बुखार के इस कहर से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है.

कहां-कहां फैल रही है ये बीमारी?

खबरों के मुताबिक ये बीमारी इस वक्त बिहार के सीतामढ़ी, शिवहर,मोतिहारी और वैशाली में फैल रही है. गंभीर हालातों को देखते हुए सभी डॉक्टरों को अलर्ट कर दिया गया है. बच्चों का इलाज एसकेएमसीएच अस्पताल में चल रहा है

क्या हैं इस बीमारी के लक्षण

दिमागी बुखार के शुरुआती लक्षणों में तेज बुखार आता है और शरीर में ऐंठन होती है. इसके बाद उन्हें बात-बात पर चिड़चिड़ाहट होती है और उल्टी आती है. इसके बात धीरे-धीरे बिना किसी बात के भ्रम उपन्न हो जाता है. इसके अलावा मांसपेशियों में कमजोरी, बोलने सुनने मे समस्या और बेहोशी छाना भी दिमागी बुखार के लक्षण हैं.

First Published: Jun 12, 2019 11:07:13 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो