साक्षी मलिक को लेकर भारतीय कुश्ती महासंघ ने जारी किया नोटिस, जानें क्या है मामला

IANS  |   Updated On : August 19, 2019 10:36:52 PM
साक्षी मलिक को लेकर भारतीय कुश्ती महासंघ ने जारी किया नोटिस

साक्षी मलिक को लेकर भारतीय कुश्ती महासंघ ने जारी किया नोटिस (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) की ओर से मिले कारण बताओ नोटिस का जवाब देने के बाद ओलम्पिक पदक विजेता भारतीय महिला पहलवान साक्षी मलिक (Sakshi Malik) को लखनऊ स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) में जारी राष्ट्रीय कैम्प में फिर से शामिल कर लिया गया है. साक्षी मलिक (Sakshi Malik) पर अनुशासन तोड़ने का आरोप था और इसके लिए डब्ल्यूएफआई ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया था. साक्षी मलिक (Sakshi Malik) के साथ साथ सीमा बिसला (50 किलो भारवर्ग), किरण (76 किलो भारवर्ग) उन तीन पहलवानों में शामिल हैं, जिन्हें डब्ल्यूएफआई ने राष्ट्रीय कैम्प से निलंबित कर दिया था. 

ये तीनों पहलवान आगामी विश्व चैंपियनशिप के लिए पहले ही क्वालीफाई कर चुकी हैं. 

डब्ल्यूएफआई के सह सचिव विनोद तोमर ने सोमवार को आईएएनएस से कहा कि ये तीनों पहलवान रक्षाबंधन त्योहार के अवसर पर अपने-अपने घर गई थीं.

और पढ़ें:  दक्षिण अफ्रीका ए सीरीज के लिए भारत-ए टीमों का ऐलान, मनीष पांडे और श्रेयस अय्यर को कप्तानी

तोमर ने कहा, 'साक्षी मलिक (Sakshi Malik) ने बताया कि वह त्योहार के लिए घर गई थीं. उन्होंने अपनी गलती स्वीकार कर ली है और कहा है कि उन्हें इसके लिए इजाजत लेनी चाहिए थी. सीमा और किरण ने भी यही वजह बताई है. उन्होंने कारण बताओ नोटिस का जवाब दे दिया है और माफी मांग ली है. इसलिए अब वे दोबारा से कैम्प में हैं.' 

लखनऊ के भारतीय खेल प्राधिकरण स्थित नेशनल कैम्प से 45 में से 25 खिलाड़ी बिना इजाजत लिए ही वहां से चली गई. गौरहाजिर होने की वजह से के बारे में पता नहीं होने के बाद इन सभी को निलंबित कर दिया गया.

और पढ़ें:  जम्मू-कश्मीर क्रिकेट को बचाने के लिए हर संभव मदद करेगा BCCI: इरफान पठान

तोमर ने कहा कि सभी पहलवानों ने फेडरेशन को अपना जवाब दे दिया है और अब उनसे कहा गया है कि वे फिर से कैम्प में शामिल हो सकती हैं. 

First Published: Aug 19, 2019 10:36:52 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो