एमएस धोनी (MS Dhoni) अभी 2021 तक खेलेंगे, चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स (CSK) के मालिक ने किया बड़ा ऐलान

Bhasha  |   Updated On : January 19, 2020 02:29:22 PM
महेंद्र सिंह धोनी Mahendra Singh Dhoni

महेंद्र सिंह धोनी Mahendra Singh Dhoni (Photo Credit : gettyimages )

chennai:  

बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन (Former BCCI President N Srinivasan) ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) भारत के लिए दोबारा खेलें या नहीं, लेकिन 2021 में आईपीएल नीलामी (IPL 2021 Auction) के दौरान चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) (CSK) द्वारा उन्हें टीम में ‘बरकरार रखा जाएगा’. बीसीसीआई (BCCI) के केंद्रीय अनुबंध में दो बार के विश्व कप विजेता कप्तान को नहीं चुना गया, जिससे पिछले कुछ दिनों में उनके संन्यास लेने को लेकर अफवाहें तेज हो गई हैं. लेकिन इंडिया सीमेंट्स के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक श्रीनिवासन ने स्पष्ट किया कि महेंद्र सिंह धोनी अपनी फ्रेंचाइजी के लिए खेलना जारी रखेंगे. श्रीनिवासन ने इंडिया सीमेंट्स के कार्यक्रम में कहा, लोग कहते रहते हैं कि वह कब संन्यास लेगा... वह कब तक खेलेगा आदि. वह खेलेगा. मैं आपको आश्वासन दे सकता हूं. वह इस साल खेलेगा. अगले साल वह नीलामी में शामिल होगा और उसे रिटेन किया जाएगा. इसलिए किसी के मन में कोई संदेह नहीं है. 

यह भी पढ़ें ः IND VS AUS : टीम इंडिया काली पट्टी बांधकर क्‍यों खेल रही है, यह है उसका कारण

टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी 2008 में आईपीएल के उद्घाटन सत्र के बाद से सीएसके का हिस्सा रहे हैं और जब फ्रेंचाइजी को दो साल के लिए निलंबित कर दिया गया था तो ही वह उनके लिए नहीं खेले थे. इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने टीम का नेतृत्व करते हुए तीन बार आईपीएल खिताब भी दिलाया. बीसीसीआई ने गुरूवार को केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची से उन्हें बाहर कर दिया जिससे भारत के पूर्व कप्तान के भविष्य पर संदेह पैदा हो गया जो पिछले साल जुलाई में न्यूजीलैंड से विश्व कप सेमीफाइनल में मिली हार के बाद से नहीं खेले हैं. धोनी को हाल में झारखंड टीम के साथ नेट पर ट्रेनिंग और बल्लेबाजी करते हुए देखा गया. वह केंद्रीय अनुबंध में ए कैटेगरी में थे जिसमें एक खिलाड़ी को वार्षिक रिटेनरशिप के रूप में पांच करोड़ रुपये मिलते हैं. भारतीय क्रिकेट में सबसे बड़े नामों में से एक महेंद्र सिंह धोनी ने टीम का नेतृत्व करते हुए देश को दो विश्व खिताब, दक्षिण अफ्रीका में 2007 विश्व T20 और घरेलू मैदान में 2011 वनडे विश्व कप दिलाए हैं. इस अनुभवी खिलाड़ी ने भारत के लिए 90 टेस्ट, 350 एकदिवसीय और 98 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं और 17,000 से अधिक रन बनाए हैं. उन्होंने स्टंप के पीछे 829 शिकार किए हैं.

First Published: Jan 19, 2020 02:29:22 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो