BREAKING NEWS
  • पाकिस्तानी पीएम की पूर्व पत्नी रेहम खान का दावा, इमरान खान को मिलता है अवैध धन- Read More »
  • छोटा राजन का भाई उतरा महाराष्ट्र के चुनावी रण में, इस पार्टी ने दिया टिकट - Read More »
  • IND vs SA, Live Cricket Score, 1st Test Day 1: भारत ने टॉस जीता पहले बल्‍लेबाजी- Read More »

World Cup Final: 23 साल बाद मिलेगा दुनिया को एकदम नया क्रिकेट चैंपियन

News State Bureau  |   Updated On : July 14, 2019 08:11:07 AM
सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  वर्ल्ड कप ट्रॉफी पर चली आ रही महज पांच देशों की बादशाहत रविवार देर रात खत्म हो जाएगी.
  •  जीते भले ही कोई, लेकिन दुनिया को मिलेगा बिल्कुल नया वर्ल्ड चैंपियन.
  •  एक टीम चौथी बार फाइनल में पहुंची है तो एक की यह लगातार दूसरी खिताबी जंग होगी.

नई दिल्ली.:  

इंतजार बस खत्म होने को है. क्रिकेट का ताज 23 साल बाद किसी नए देश के सिर पर सजेगा. वर्ल्ड कप ट्रॉफी पर चली आ रही महज पांच देशों की बादशाहत रविवार देर रात खत्म हो जाएगी. अब तक हुए 11 वर्ल्ड कप महज पांच देशों ने ही आपस में बांटे हैं. फाइनल क्रिकेट का जनक इंग्लैंड और हमेशा 'अंडरडॉग' कही जाने वाली टीम न्यूजीलैंड के बीच है. इनमें से जीते भले ही कोई, लेकिन दुनिया को बिल्कुल नया वर्ल्ड चैंपियन मिलेगा.

दोनों टीमों का सफर
इयोन मॉर्गन की कप्तानी वाली इंग्लैंड ने 5 बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को सेमीफाइनल में हराकर वर्ल्ड कप-2019 के फाइनल में जगह बनाई. वहीं, न्यूजीलैंड ने 2 बार की चैंपियन टीम इंडिया को सेमीफाइनल में 18 रन से हराया, जिस मैच का परिणाम रिजर्व डे में आया. अब जो भी टीम फाइनल में जीतेगी, वह इस चमचमाती ट्रोफी को पहली बार उठाएगी. कह सकते हैं कि एक तरफ 6 करोड़ की आबादी वाला देश है, तो दूसरी तरफ महज 50 लाख की जनसंख्या की दुआएं. एक देश क्रिकेट का जनक है, तो दूसरे का राष्ट्रीय खेल रग्बी है. एक टीम चौथी बार फाइनल में पहुंची है तो एक की यह लगातार दूसरी खिताबी जंग होगी.

यह भी पढ़ेंः World Cup: विटोरी ने बताया आखिर क्यूं 'स्पेशल' है वर्ल्ड कप फाइनल, इंग्लैंड से होगी भिड़ंत

अब तक के वर्ल्ड चैंपियन
अब तक हुए 11 वर्ल्ड कप में से ऑस्ट्रेलिया ने सर्वाधिक पांच खिताब जीते हैं. उसके बाद भारत और वेस्टइंडीज के नाम दो-दो खिताब हैं. श्रीलंका और पाकिस्तान ने एक-एक बार यह ट्रॉफी जीती.

पहले बल्लेबाजी करने वाले को फायदा
लॉर्ड्स का मैदान इस वर्ल्‍ड कप में पहले बल्‍लेबाजी करने वाली टीमों के पक्ष में रहा है. साथ ही 300 से ज्‍यादा के स्‍कोर बने हैं, लेकिन फाइनल मैच नई पिच पर होगा. अभी यह पिच हरी नजर आ रही है. ऐसे में लग रहा है कि गेंदबाजों को मदद मिल सकती है. माना जा रहा है कि सूरज निकलने के बाद घास का रंग सफेद या भूरा हो सकता है.

यह भी पढ़ेंः World Cup: टीम इंडिया बनी No. 1 वनडे टीम, आईसीसी ने जारी की ताजा रैंकिंग

किसमें कितना है दम
इंग्लैंड
मजबूत बल्लेबाजी लाइन वाली टीम इंग्लैंड का शीर्ष क्रम यदि न्यूजीलैंड की धारदार गेंदबाजी से शुरुआती 15 ओवरों में खुद को बचा लेता है तो फिर आधी लड़ाई टीम वैसे ही जीत लेगी. हालांकि इसके लिए ओपनर जेसन रे और जॉनी बेयरस्टो को जोखिम से बचते हुए रन बनाने होंगे. इंग्लैंड का मध्यक्रम भी मजबूत है, जिसमें जोए रूट, कप्तान ऑयन मॉर्गन, बेन स्टोक्स और जोस बटलर जैसे खिलाड़ी हैं, जबकि निचले क्रम में भी क्रिस वोक्स और आदिल रशीद मौजूद हैं. जोफ्रा आर्चर, क्रिस वोक्स, बेन स्टोक्स की अगुआई में टीम का गेंदबाजी विभाग भी सुरक्षित हाथों में है.

न्यूजीलैंड
इंग्लैंड की टीम के लिए राह इतनी भी आसान नहीं रहेगी. उसके लिए सबसे बड़ी चुनौती न्यूजीलैंड के गेंदबाज होंगे. भारत के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में मैट हेनरी और ट्रेंट बोल्ट ने टीम को शुरुआती सफलता दिलाकर मुकाबले में काफी आगे कर दिया था, लेकिन अगर टीम को खिताब जीतना है तो फिर इंग्लैंड के गेंदबाजों की धारदार गेंदबाजी से बचते हुए मार्टिन गप्टिल और निकोल्स को जिम्मेदारी निभानी होगी.

First Published: Jul 14, 2019 08:05:38 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो