BREAKING NEWS
  • नहीं रहे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र, दिल्ली में ली आखिरी सांस- Read More »
  • रिलायंस जियो (Reliance Jio) को टक्कर देने के लिए BSNL ने उठाया ये बड़ा कदम- Read More »
  • POK को कराएंगे आजाद, भारत में होगा शामिल, केंद्रीय मंत्री का बड़ा बयान- Read More »

पहलवान योगेश्वर दत्त ने बताया आखिर क्यों लिया कुश्ती से संन्यास?

News State Bureau  |   Updated On : November 02, 2018 08:52 PM
पहलवान योगेश्वर दत्त

पहलवान योगेश्वर दत्त

नई दिल्ली:  

पहलवान योगेश्वर दत्त ने विश्व कुश्ती से संन्यास लेने के पीछे अपने कारण के बारे में बताया. उन्होंने बताया कि संन्यास लेने के मुश्किल फैसले के पीछे उनकी उम्मीद छिपी है जिसके अनुसार उन्हें यकीन है कि अगर वह अपने शिष्य बजरंग पूनिया के साथ मेहनत करेंगें तो पुनिया भारत के पहले पहलवान बन सकते हैं जो देश के लिए ओलंपिक्स में स्वर्ण पदक हासिल कर नाम रोशन करेंगे.

योगेश्वर ने कहा कि मैट से संन्यास लेने का फैसला मुश्किल नहीं था क्योंकि उनके पास बजरंग जैसा शिष्य था.

योगेश्वर ने कहा, ‘यह महत्वपूर्ण है कि बजरंग ओलिंपिक पदक के लिए तैयार रहे. वह अच्छे हैं लेकिन और भी बेहतर कर सकते हैं. मैं 2020 में भाग नहीं ले सकता इसलिए बेहतर यही है कि हम बजरंग की मदद करें. वह तोक्यो में स्वर्ण पदक के लिए प्रबल दावेदारों में एक होंगे.’

और पढ़ें: IPL स्पाट फिक्सिंग मामले में जांच अधिकारी का बड़ा दावा, बताया आखिर क्यों नहीं पूरी हो पाई थी जांच 

गौरतलब है कि केडी जाधव और सुशील कुमार के बाद योगेश्वर ओलंपिक पदक -2012 लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक- जीतने वाले तीसरे भारतीय पहलवान हैं. योगेश्वर ने अपने सफल करियर में 2014 में कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड पदक जीते थे.

उन्होंने कहा, ‘मेरा करियर अच्छा रहा. मैंने चार ओलिंपिक में भाग लिया. हमारे पहलवानों में बजरंग अच्छा कर रहे हैं और बेहतर हो सकता हैं. इसलिए मौका और सहयोग उन्हें देना अहम है.’

कुश्ती छोड़ने के फैसले पर योगेश्वर ने कहा, ‘अगर बजरंग नहीं होते तो मैं संन्यास नहीं लेता. मैं और स्पर्धाओं में भाग लेता और शायद एक वजन वर्ग ऊपर हो जाता लेकिन मुझे लगा कि यह सही फैसला है. वह अभी 24 साल के हैं. जूनियर स्तर से अपार प्रतिभा दिखा रहे हैं. मैं भारत के लोगों को अब बजरंग में योगेश्वर को देखना चाहता हूं. मेरा करियर लंबा रहा और मैं नहीं चाहता कि बजरंग इससे प्रभावित हों.’

और पढ़ें: ICC की ताजा रैंकिंग में चहल करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर, शिखर 4 पायदान फिसले 

अपना 35वां जन्मदिन मना रहे हरियाणा के पहलवान ने कहा कि वह बजरंग को 2020 तोक्यो ओलिंपिक के लिए तैयार करने पर ध्यान लगाए हैं.

First Published: Friday, November 02, 2018 08:50 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Yogeshwar Dutt, Wrestling In Olympics, Wrestling, Olympic Gold, Bajrang Punia,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो