BREAKING NEWS
  • जम्मू-कश्मीर में नजरबंद नेताओं पर बोले चिदंबरम, कहा-उम्मीद है कोर्ट एक्शन लेगा- Read More »
  • काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर लगी रोक, जानिए क्या है कारण- Read More »
  • देश के सबसे लंबे आदमी ने CM योगी से लगाई गुहार, इलाज के लिए मांगी आर्थिक मदद- Read More »

विराट कोहली की जुबानी सुनें टीम के ड्रेसिंग रूम की कहानी

News State Bureau  |   Updated On : July 24, 2019 02:15 PM

नई दिल्‍ली:  

वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल (World cup Semi final) से बाहर होने के दर्द को अब पीछे छोड़ भारतीय क्रिकेट टीम अपना पूरा ध्‍यान वेस्‍टइंडीज दौरे पर लगा रखी है. विराट कोहली (Virat Kohli)और रोहित शर्मा जैसे सीनियर खिलाड़ियों के साथ काफी युवा खिलाड़ी भी इस दौरे का हिस्सा हैं. विश्‍व कप के सेमीफाइनल में जब ऋषभ पंत (Rishabh Pant) और हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya)अपने विकेट गलत शॉट पर गंवा कर आए तो ड्रेसिंग रूम में कप्‍तान कोहली ने क्‍या कहा होगा? क्‍या कोहली दोनों जूनियर खिलाड़ियों को फटकार लगाई होगी? ऐसे ढेर सारे सवाल हरेक क्रिकेट प्रेमी के दिमाग में आज भी घूम रहा होगा. चलिए कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli)से ही जान लेते हैं कि ड्रेसिंग रूम का माहौल के बारे में..

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli)ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए साक्षात्कार में कहा कि मैंने भी अपने करियर के शुरुआती दिनों में कई गलतियां की थीं. ड्रेसिंग रूम का माहौल इतना दोस्ताना है कि युवा खिलाड़ी आराम से अपनी बात रख सकते हैं.

यह भी पढ़ेंः वेस्‍टइंडीज में अपने दमदार प्रदर्शन की बदौलत टीम इंडिया में शामिल हुए ये 5 चेहरे

कोहली के अनुसार, ''डांटने वाला माहौल अब तो चेंज रूम में है ही नहीं. मैं जितना दोस्ताना कुलदीप यादव के साथ हूं, उतना ही एमएस धोनी के साथ भी हूं. ऐसा माहौल है कि कोई भी किसी से कुछ भी कह सकता है. मैं तो उनके पास जाकर कहता हूं कि देख, मैंने ये गलतियां की हैं, तू मत कर."भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli)ने कहा कि ड्रेसिंग रूम का माहौल इन दिनों बहुत दोस्ताना है. युवा खिलाड़ी आराम से अपनी बात रख सकते हैं. डांटने वाला माहौल अब तो चेंज रूम में है ही नहीं.

यह भी पढ़ेंः वेस्टइंडीज के खिलाफ सफल प्रदर्शन को बेताब हैं क्रुणाल पांड्या, कहा- धोनी और विराट से सीखा

इन युवा खिलाड़ियों को लय से भटकने से रोकने के लिए कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli)भी मदद कर रहे हैं. इसका खुलासा करते हुए उन्होंने कहा कि वे युवा खिलाड़ियों को सहज महसूस कराने के लिए लगातार उनसे बात करते हैं. विराट कोहली (Virat Kohli)ने कहा कि अगर आप प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ी हैं तो फिर कई चीजें आपका ध्यान भटका सकती हैं.

युवाओं का उत्साह बढ़ाता हूं

विराट कोहली (Virat Kohli)ने बताया कि मैं युवा खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाता रहता हूं. उनसे कहता हूं कि तुम्हारा करियर दो-तीन सालों में और ऊंचाई पर जाएगा. मैं युवा खिलाड़ियों को उनका स्पेस देता हूं. मैं उनसे बात करता हूं और बताता हूं कि अभी वे कहां हैं और उन्हें कहां होना चाहिए या वे कहां जा सकते हैं. मैं उन्हें ये भी कहता हूं कि मैं नहीं चाहता कि तुम अपने करियर के दो-तीन साल खराब कर दो. इसलिए अपनी कमियों को जितना जल्दी हो सुधार लेना चाहिए.

First Published: Wednesday, July 24, 2019 02:15 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Virat Kohli, Bcci, Cricket, India Vs West Indies, Indian Cricket Team, Cricket News,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो