मिसाल : स्कूल वैन चलाकर बेटे को बनाया अंडर 19 विश्वकप क्रिकेट टीम का कप्तान

भाषा  |   Updated On : December 03, 2019 02:28:52 PM
प्रियम गर्ग Priyam Garg

प्रियम गर्ग Priyam Garg (Photo Credit : gettyimages )

लखनऊ:  

Under 19 World Cup : अगले साल 17 जनवरी से शुरू होने वाले अंडर 19 विश्‍व कप (U-19 World Cup) के लिए भारतीय टीम की घोषणा (Indian Team Selection) कर दी गई है. अंडर 19 के शानदार बल्‍लेबाजों में शुमार किए जाने वाले प्रियम गर्ग (Priyam Garg) को क्रिकेट टीम की कमान दी गई है, वहीं ध्रुव चंद जुरेल (Dhruv Chand Jurel) विकेट कीपर और उपकप्‍तानी का जिम्‍मा संभालेंगे. भारतीय टीम अब तक चार बार अंडर 19 वर्ल्‍ड कप जीत चुकी है. इस बार के विश्‍व कप में कुल 16 टीमें हिस्‍सा ले रही हैं. टूर्नांमेंट का फाइनल मैच नौ फरवरी होगा. इस बार के विश्‍व कप के लीग मैच में भारत और पाकिस्‍तान की भिड़ंत देखने के लिए नहीं मिलेगी. भारत को ग्रुप ए और पाकिस्‍तान को ग्रुप सी में रखा गया है. भारत का पहला मुकाबला 19 जनवरी को श्रीलंका के खिलाफ खेला जाएगा. इसी के साथ भारतीय टीम के अभियान का आगाज होगा. भारत का अगला मुकाबला 21 जनवरी को जापान और उसके बाद तीसरा मैच 24 जनवरी को न्‍यूजीलैंड से होगा. लेकिन आज हम आपको कुछ और बताने जा रहे हैं. जरा उस खिलाड़ी के बारे में जान लीजिए, जिसे इस टूर्नामेंट के लिए भारतीय टीम का कप्‍तान बनाया गया है. उनका नाम है प्रियम गर्ग. 

यह भी पढ़ें ः फुटबाल के सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ी मेस्सी बोले, उम्र का असर खेल पर नहीं पड़ने दूंगा

प्रतिकूल परिस्थितियों में प्रतिभा के प्रसून प्रस्फुटित होते हैं और इस बात को चरितार्थ कर दिखाया है भारत की अंडर 19 क्रिकेट विश्व कप टीम के कप्तान प्रियम गर्ग ने, जिनके पिता ने स्कूल की वैन चलाकर अपने बेटे के शौक को परवान चढाया. मेरठ जिले से करीब 25 किलोमीटर दूर गांव किला परीक्षित गढ़ में रहने वाले प्रियम कक्षा 10 के छात्र हैं. छह साल की उम्र से क्रिकेट खेलने वाले प्रियम भारत की अंडर 19 विश्वकप क्रिकेट टीम के कप्तान हैंं. मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श मानने वाले प्रियम ने मंगलवार को 'भाषा' से विशेष बातचीत में कहा, मैंने छह साल की उम्र से क्रिकेट खेलना शुरू किया था. मेरे पिता नरेश गर्ग स्कूल वैन के ड्राइवर हैं. हम चार भाई बहन हैं और मेरे पिता के पास इतना पैसा नहीं था कि वह इतने बड़े परिवार के साथ मुझे क्रिकेट खेलने के लिए संसाधन भी उपलब्ध करा सकें.

यह भी पढ़ें ः लियोनेल मेस्सी ने रिकार्ड छठी बार फीफा के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार जीता

कप्तान प्रियम गर्ग ने कहा, क्रिकेट के प्रति मेरी दीवानगी और समर्पण देखते हुए उन्होंने अपने दोस्तो से पैसा उधार लेकर मेरे लिए क्रिकेट की किट का इंतजाम करवाया और मेरी क्रिकेट कोचिंग की व्यवस्था की. धीरे धीरे मैं क्रिकेट खेलता रहा और अपने पिता की मेहनत से आज मैं अंडर 19 विश्व कप क्रिकेट टीम का कप्तान हूं. उन्होंने कहा, मेरी मां का निधन 2011 में हो गया था और उनका सपना था कि मैं क्रिकेट में भारत की तरफ से खेलूं. आज जब मैं अंडर 19 विश्व कप में भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रहा हूं, तब इसे देखने के लिए मेरी मां नहीं है. इस बात का मुझे बेहद अफसोस है.

यह भी पढ़ें ः एक मैच में लगे चार शतक और एक दोहरा शतक, मैच का परिणाम...

दाहिने हाथ से बल्लेबाजी करने वाले कप्तान प्रियम गर्ग बताते हैं, मैं पढ़ाई के साथ साथ दिन में सात से आठ घंटे क्रिकेट की प्रैक्टिस भी करता रहा. मेरे मेरठ के क्रिकेट कोच संजय रस्तोगी मुझे लगातार मदद करते रहे और उनकी मदद और मेरे पिता की लगन और अपनी मेहनत की वजह से मैं 2018 में उप्र रणजी क्रिकेट टीम में चुना गया. प्रियम ने कहा, मेरा सपना है कि सचिन तेंदुलकर सर से मिलूं और उनसे क्रिकेट के टिप्स लूं. एक दिन टीम इंडिया की नीली जर्सी पहनूं.

यह भी पढ़ें ः India vs West Indies T20 Series : पहला मैच छह दिसंबर को, यहां जानें दोनों टीमों के आंकड़े

वहीं, उनके कोच संजय रस्तोगी ने कहा, आने वाली पीढ़ी के लिए यह बच्चा एक प्रेरणा है. प्रियम ने जो हासिल किया है, उससे साबित होता है कि लगन होने पर परेशानियां आड़े नहीं आती. घर की जिम्मेदारियों को समझते हुए इसने कम उम्र में खेल में भी परिपक्वता का परिचय दिया है, जो काबिले तारीफ है. भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और प्रवीण कुमार जैसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के कोच रहे संजय रस्तोगी ने कहा, इसका खेल ऐसा है कि यह भारतीय सीनियर टीम में जरूर शामिल होगा. घरेलू टूर्नामेंटों में इसका प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा और यह मेहनत से पीछे नहीं हटता. 

यह भी पढ़ें ः कभी देखा है : बिना कोई रन दिए झटक लिए छह विकेट, पांच गेंद में मैच जीता

उप्र क्रिकेट संघ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक शर्मा ने कहा, इस बार उत्तर प्रदेश के तीन खिलाड़ी अंडर 19 विश्व कप के लिये चुने गये है जिनमें प्रियम गर्ग, ध्रुव चंद जुरेल और कार्तिक त्यागी शामिल हैं. संघ के निदेशक युध्दवीर सिंह कहते हैं, उप्र क्रिकेट ने भारतीय क्रिकेट को मोहम्मद कैफ और सुरेश रैना जैसे एक से एक नायाब खिलाड़ी दिए हैं. हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में प्रियम, ध्रुव और कार्तिक भारतीय टीम में उप्र का नाम रोशन करेंगे. 

First Published: Dec 03, 2019 02:28:52 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो