गेंद से छेड़खानी मामले में निकोलस पूरन पर कम प्रतिबंध पर बोले स्‍टीव स्‍मिथ, जानें क्‍या कहा

News State Bureau  |   Updated On : November 19, 2019 11:39:19 AM
स्‍टीव स्‍मिथ

स्‍टीव स्‍मिथ (Photo Credit : आईसीसी )

New Delhi:  

गेंद से छेड़खानी मामले में एक साल का प्रतिबंध झेल चुके स्टीव स्मिथ (Steve smith) को इससे कोई शिकायत नहीं है कि वेस्टइंडीज के निकोलस पूरन (Nicholas Pooran) को ऐसे मामले में चार मैच का प्रतिबंध ही झेलना होगा. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने भारत में अफगानिस्तान के खिलाफ एक वनडे मैच में गेंद की दशा बदलने के आरोप में पूरन पर पिछले सप्ताह चार टी20 मैचों का प्रतिबंध लगा दिया. 

यह भी पढ़ें ः FIFA World Cup 2022 : पहली बार ओमान पर जीत दर्ज करने उतरेगी भारतीय फुटबाल टीम

स्मिथ (Steve smith) और डेविड वार्नर (David warner) गेंद से छेड़खानी मामले में एक साल और कैमरन बेनक्रोफ्ट नौ महीने का प्रतिबंध झेल चुके हैं. स्‍टीव स्मिथ ने कहा, हर कोई अलग है. हर बोर्ड अलग है और उनका मसलों से निपटने का तरीका भी अलग है. उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ यहां होने वाले पहले टेस्ट से पूर्व कहा, मुझे कोई शिकायत नहीं है. अब यह बहुत पुरानी बात हो गई है. मैं बीती बातों को भुला चुका हूं और वर्तमान पर फोकस कर रहा हूं.

यह भी पढ़ें ः T10 लीग में आया तूफान, इस खिलाड़ी ने 30 गेंद में जड़ दिए 91 रन, अब मचेगी खलबली

वेस्टइंडीज के विकेटकीपर बल्लेबाज निकोलस पूरन (Nicholas Pooran) को अफगानिस्तान के खिलाफ तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ की बात स्वीकार करने के लिए चार मैचों के लिए निलंबित कर दिया गया. पूरन इस अपराध के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी भी मांग चुके हैं. पूरन अब वेस्टइंडीज की ओर से चार T20 मैचों में नहीं खेल पाएंगे और उनके रिकार्ड में पांच डिमेरिट अंक जोड़े गए हैं.

यह भी पढ़ें ः VIDEO : दोनों हाथों से गेंद फेंकता है यह अद्भुत गेंदबाज, दोनों से लिए विकेट

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने बयान में कहा था कि खिलाड़ियों और खिलाड़ियों के सहयोगी स्टाफ से जुड़ी आईसीसी आचार संहिता के लेवल तीन के उल्लंघन की बात स्वीकार करने के लिए निकोलस पूरन को चार निलंबन अंक दिए गए हैं. आईसीसी ने कहा, वीडियो फुटेज में दिखा था कि यह क्रिकेटर अंगूठे के नाखून से गेंद की सतह को खरोंच रहा था, जिसके बाद पूरन पर संहिता के नियम 2.14 के उल्लंघन का आरोप लगाया गया था जो गेंद की दशा बदलने से संबंधित है. पूरन ने अपराध स्वीकार कर लिया और साथ ही मैच रैफरी क्रिस ब्रॉड की सजा भी स्वीकार की. पूरन ने कहा, मुझे पता चल गया है कि मैंने फैसला करने में बहुत बड़ी गलती की और मैं आईसीसी की सजा को पूरी तरह से स्वीकार करता हूं. मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि यह एकमात्र घटना है और यह दोहराई नहीं जाएगी.

(इनपुट भाषा)

First Published: Nov 19, 2019 11:39:19 AM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो