Ravi Bishnoi Rocks : रवि बिश्‍नोई की फिरकी में फंसे बांग्‍लादेशी बल्‍लेबाज, किंग्‍स इलेवन ने खर्च किए हैं दो करोड़

Pankaj Mishra  |   Updated On : February 09, 2020 08:05:33 PM
Ravi Bishnoi Rocks : रवि बिश्‍नोई की फिरकी में फंसे बांग्‍लादेशी बल्‍लेबाज, किंग्‍स इलेवन ने खर्च किए हैं दो करोड़

रवि बिश्‍नोई Ravi Bishnoi (Photo Credit : बीसीसीआई ट्वीटर )

New Delhi:  

भारत ने आईसीसी अंडर-19 विश्व कप (u19 world cup 2020 final) के फाइनल में बांग्लादेश (ind u19 vs ban u19) के सामने जीत के लिए 178 रनों का लक्ष्य रखा है. भारत ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 47.2 ओवर में 177 रनों का स्कोर बनाया. भारत की इस मैच में हार पक्‍की मानी जा रही है, लेकिन इसी बीच भारतीय स्‍पिनर रवि बिश्‍नोई (Ravi Bishnoi) में मैच में जान फूंक दी. बांग्‍लादेश के अभी तक पांच विकेट गिर चुके हैं, जिसमें से चार तो अकेले रवि बिश्‍नोई ने चटका दिए हैं. रवि बिश्‍नोई की गेंद ऐसी स्‍पिन हो रही है कि बांग्‍लादेश के बल्‍लेबाज समझ ही नहीं पा रहे हैं कि गेंद आखिर जा कहां रही है. रवि बिश्‍नोई की गेंद ने ऐसा कहर बरपाया कि मैच अब रोचक हो रहा है. हालाकि भारतीय टीम ने रन बहुत कम बनाए हैं, इसलिए मैच भारत की पकड़ से फिसल भी सकता है. लेकिन रवि बिश्‍नोई ने मैच में जान ही डाल दी. उन्‍हीं की बदौलत एक वक्‍त लगने लगा था कि वे भारत को मैच जिता देंगे.

आपको बता दें कि जोधपुर के रहने वाले स्‍पिनर रवि बिश्नोई के लिए दिसम्बर का महीना खुशियां लेकर आया था. इसी महीने वे अंडर 19 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में चुने गए थे. उसके बाद लेग स्पिनर रवि विश्नोई को आईपीएल की नीलामी में पंजाब ने दो करोड़ रुपए की भारी भरकम बोली लगा कर खरीद लिया था. रवि के आईपीएल में किग्स इलेवन पंजाब की ओर से दो करोड़ में खरीदने का समाचार मिलते ही उनके साथी क्रिकेटर ढोल नगाड़ों के साथ रवि के घर पर पहुंच गए थे. उन्होंने वहां जोरदार जश्न मनाया था. तब मीडिया से बात करते हुए रवि के शिक्षक पिता मांगीलाल ने बताया था कि वे आज बेहद खुश हैं कि उनके बेटे ने एक पहचान हासिल कर ली. जोधपुर से बारहवीं तक पढ़ाई करने के साथ पूरी तरह से क्रिकेट को समर्पित रवि देश के अन्य बच्चों की तरह उन्होंने अपनी गली में टेनिस बॉल के साथ क्रिकेट खेलने की शुरुआत की थी. उस समय ज्यादा दूर की नहीं सोची थी. आठ बरस पूर्व जोधपुर में स्पार्टन क्रिकेट अकादमी में वे एक तेज गेंदबाज बनने की ललक लिए पहुंचे थे. वहां के कोच प्रत्युश और शाहरुख ने कुछ दिन पश्चात उन्हें तेज गेंदबाजी का मोह छोड़ एक स्पिनर बनने के लिए प्रेरित किया. इसके बाद उन्होंने लेग स्पिनर के रूप में अभ्यास शुरू किया.

आपको बता दें कि रवि बिश्‍नाई की तारीफ वेस्‍टइंडीज के दिग्गज इयान बिशप भी कर चुके हैं. रवि बिशप को अपना दिवाना बना चुके हैं. पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में रवि बिश्‍नोई की गूगली को देखकर इयान बिशप ने उन्हें जादूगर बता दिया था. बिश्नोई की फिरकी और उनके प्रदर्शन का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने अभी तक टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा विकेट लिए हैं. इससे पहले वे दो बार चार-चार विकेट ले चुके थे, लेकिन अब यह संख्‍या तीन हो गई है, यानी वे तीन बार चार चार विकेट अपने नाम कर चुके हैं.

First Published: Feb 09, 2020 07:52:50 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो