जावेद मियांदाद ने कहा- श्रीलंका के शीर्ष खिलाड़ियों का न खेलना पाकिस्तान की समस्या नहीं

आईएनएस  |   Updated On : September 17, 2019 06:37:37 AM
पूर्व कप्तान और कोच जावेद मियांदाद (फाइल फोटो)

पूर्व कप्तान और कोच जावेद मियांदाद (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

श्रीलंका क्रिकेट टीम के शीर्ष खिलाड़ियों ने पाकिस्तान दौरे पर आने से मना कर दिया, जिस पर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और कोच जावेद मियांदाद ने कहा है कि पाकिस्तान टीम को यह नहीं देखना चाहिए की कौन सी टीम खेलने आ रही बल्कि इस बात को नजरअंदाज करते हुए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देना चाहिए. श्रीलंका का पाकिस्तान दौरा 27 सिंतबर से शुरू हो रहा है. इस दौरे पर दोनों टीमें तीन-तीन मैचों की टी-20 और वनडे सीरीज खेलेंगी.

श्रीलंका के कुछ शीर्ष खिलाड़ियों ने हालांकि सुरक्षा कारणों से अपना नाम वापस ले लिया है. इनमें कप्तान लसिथ मलिंगा, एंजेलो मैथ्यूज, दिनेश चंडीमल, सुरंगा लकमल, दिमुथ करुणारत्ने, थिसारा परेरा, अकिला धनंजय, धनंजय डी सिल्वा, कुशल परेरा और निरोशन डिकवेला के नाम हैं.

इसे भी पढ़ें:कश्मीर पर मुस्लिम देशों से समर्थन मांग रहा था पाकिस्तान, मदद की बजाय मिली नसीहत

पाकिस्तान के अखबार 'द डॉन' ने मियांदाद के हवाले से लिखा है, 'यह बात मायने नहीं रखती कि श्रीलंका के कौन से खिलाड़ी खेलने आ रहे हैं बल्कि पाकिस्तान को सामने वाली टीम को देखे बिना अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहिए.'

मियांदाद का साथ ही मानना है कि श्रीलंका क्रिकेट को उन खिलाड़ियों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मैच छोड़कर अन्य देशों की टी-20 लीग में हिस्सा लेने को प्राथमिकता दी.

और पढ़ें:खुशखबरी! 9 नवंबर को भारतीय श्रद्धालुओं के लिए खुलेगा करतारपुर कॉरिडोर

उन्होंने कहा, 'खिलाड़ियों के लिए अंतर्राष्ट्री मैच प्राथमिकता होने चाहिए और एसएलसी को उन खिलाड़ियों पर कार्रवाई करनी चाहिए जिन्होंने पाकिस्तान दौरे से हटने का फैसला किया है.'

First Published: Sep 16, 2019 08:23:57 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो