IPL 2017 final: मुंबई तीसरी बार बना चैंपियन, ऐसा रहा अंतिम ओवर का रोमांचक मुकाबला

News State Bureau  |   Updated On : May 22, 2017 08:41:57 AM
IPL 2017 final: मुंबई तीसरी बार बना चैंपियन, ऐसा रहा अंतिम ओवर का रोमांचक मुकाबला

आईपीएल 10 की चैंपियन मुंबई इंडियंस की टीम (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम पर मुंबई इंडियंस और राइजिंग पुणे सुपरजाएंट बीच एक शानदार फाइनल मैच देखने को मिला। मैच से पहले जीत की हवा पुणे के लिए बह रही थी, लेकिन आखिरी में बाजी मुंबई ने मारी।

बेहद रोमांचक मुक़ाबला में मुंबई इंडियंस ने पुणे को सिर्फ एक रन से हराकर तीसरी बार ट्रॉफी अपने नाम करने के साथ इतिहास भी रचा दिया।

आईपीएल के इतिहास में यह पहली बार हुआ जब कोई टीम तीसरी बार चैंपियन बनी है। रोहित शर्मा के कप्तानी में मुंबई को यह खिताब हासिल हुआ। मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया लेकिन रोहित शर्मा के निर्णय पर तब सवाल उठने लगे जब मुंबई ने पहले पांच ओवर में सिर्फ 16 रन पर दो विकेट खो दिए।

और पढ़ेंः ऐश्वर्या राय बच्चन की बेटी आराध्या से मात खा गईं दीपिका पादुकोण

पहले पांच ओवर में पुणे के गेंदबाज़ मुंबई के बल्लेबाज़ों के ऊपर पूरी तरह हावी हो गए थे। लेकिन छठे ओवर में मुंबई को 16 रन मिले। इस ओवर में रोहित शर्मा ने चार चौके लगाए। इन चार चौके साथ के साथ मुंबई के ऊपर जो दवाब था वह हट गया। लेकिन जल्द ही अम्बाती रायडू सिर्फ 12 रन बनाकर रन आउट हो गए।

11 ओवर के बाद क्रुणाल पांड्या और हार्दिक पांड्या पिच पर मौजूद थे, उम्मीद की जा रही थी कि दोनों भाई कुछ खास करेंगे. लेकिन ऐसा नहीं हुआ मुंबई का स्कोर जब 78 रन था तब हार्दिक पांड्या आउट हो गए।

ऐसा लग रहा था कि मुंबई इंडियन 100 आंकड़ा पार नहीं कर पाएगी। 17 ओवर के बाद मुंबई का स्कोर 7 विकेट पर 92 रन था। 18वें ओवर में 13 रन, 19वें में दस और आखिरी ओवर में 14 रन आए। इस तरह मुंबई का स्कोर 129 तक पहुंच गया।

पुणे का शुरुआत अच्छी रही। 11 ओवर के बाद पुणे का स्कोर सिर्फ एक विकेट पर 65 रन था। हाथ में विकेट होने के वजह से उम्मीद की जा रही थी कि पुणे आराम से यह मैच जीत जाएगा। खुद कप्तान स्टीवन स्मिथ और अजिंक्ये रहाणे पिच पर मौजूद थे।

रहाणे के आउट हो जाने के बाद महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर उतरे। कप्तान स्मिथ और धोनी विकेट बचाते हुए धीरे-धीरे पारी को आगे ले गए। 15 ओवर के बाद पुणे का स्कोर 2 विकेट पर 83 रन था।

और पढ़ेंः चीन में आमिर खान की 'दंगल' की धूम, 1,500 करोड़ कमाने वाली दूसरी फिल्म बनी

जब धोनी और स्मिथ पिच पर थे तो उम्मीद की जा रही थी कि पुणे मैच को जीत लेगी। मुंबई के तरफ से गेंदबाज़ी करने के लिए क्रुणाल पांड्या आए। इस ओवर में धोनी ने एक चौका मारा तो स्मिथ ने एक शानदार छक्का लगाया। जसप्रीत बुमराह के 17वें ओवर में धोनी को आउट करते हुए सिर्फ तीन रन दिए। बुमराह के बाद आए मलिंगा ने 7 रन दिए। अब आखिरी दो ओवर में जितने के लिए 23 रन की जरुरत थी।

19वें ओवर में स्मिथ ने छक्का लगाया और पुणे को मैच में वापस ले आए। अब आखिरी ओवर में 11 रन की जरुरत थी और गेंदबाज़ी करने के लिए मिचेल जॉनसन आए।

ओवर की पहली गेंद पर मनोज तिवारी ने चौंका लगाया। दूसरी गेंद पर तिवारी ने छक्का लगाने की कोशिश में पोलार्ड को कैच दे दिया। तीसरी गेंद पर स्मिथ ने ज़ोरदार शॉट मारा लेकिन बाउंड्री लाइन पर मौजूद अम्बाती रायडू ने एक अच्छा कैच पकड़ा। स्मिथ 50 गेंदों का सामना करते हुए 51 रन बनाकर आउट हुए।

और पढ़ेंः रियल 'एयरलिफ्ट' हीरो मैथुनी मैथ्यू का हुआ निधन, अक्षय कुमार ने जताया शोक

अब आखिर दो गेंदों में जीतने के लिए छह रन चाहिए थे। पांचवीं गेंद पर डेनियल क्रिस्टियन ने दो रन लिए। आखिरी गेंद पर क्रिस्टियन ने एक ज़ोरदार शॉट लगाया, गेंद बाउंड्री लाइन पर पहुंची लेकिन सिर्फ दो रन मिले और मुंबई ने इस मैच को एक रन से जीत लिया।

First Published: May 22, 2017 08:34:00 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो