BREAKING NEWS
  • दिल्ली में पी चिदंबरम के घर पहुंची CBI की टीम, हो सकते हैं गिरफ्तार- Read More »
  • PAK को भारत के साथ कारोबार बंद करना पड़ा भारी, अब इन चीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 35% ज्यादा दाम- Read More »
  • मुंबई के होटल ने 2 उबले अंडों के लिए वसूले 1,700 रुपये, जानिए क्या थी खासियत- Read More »

World Cup: 2023 विश्व कप में टीम इंडिया का हिस्सा बन सकते हैं यह 7 चेहरे, करेंगे सपना पूरा

News State Bureau  |   Updated On : July 16, 2019 07:30 PM
2023 विश्व कप में टीम इंडिया का हिस्सा बन सकते हैं यह 7 चेहरे

2023 विश्व कप में टीम इंडिया का हिस्सा बन सकते हैं यह 7 चेहरे

नई दिल्ली:  

आईसीसी विश्व कप में सेमीफाइनल मैच में हार के बाद बाहर होने वाली भारतीय टीम के फैन्स भले ही निराश हों लेकिन 4 साल बाद अपनी सरजमीं पर होने वाले विश्व कप को लेकर उत्साहित भी हैं. भारतीय क्रिकेट फैन्स को पूरी उम्मीद है कि 2023 विश्व कप में भारतीय टीम अपनी सरजमीं पर एक बार फिर विश्व विजेता बन कर उभरे. ऐसे में यह जाहिर सी बात है कि मौजूदा भारतीय टीम के कई सदस्य जो इस समय टीम का हिस्सान वह 2023 में नजर न आएं. लेकिन कई युवा और प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं उनकी जगह पर भारतीय टीम का हिस्सा बनकर टीम इंडिया के इस सपने को साकार कर सकते हैं. इन खिलाड़ियों को अभी से क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए तैयार करना होगा. आइए नजर डालते हैं उन युवा खिलाड़ियों पर 2023 में विश्व कप टीम का हिस्सा बन सकते हैं.

शुभमन गिल (Shubhman Gill)

शुभमन गिल (Shubhman Gill)

घरेलू क्रिकेट में पंजाब की ओर से खेलने वाले शुभमन गिल 2023 में भारतीय क्रिकेट के लिए अहम भूमिका निभा सकते हैं. इंडिया ए के नियमित सदस्य शुभमन गिल भारतीय टीम के लिए कुछ मैचों में विराट कोहली की जगह 3 नंबर पर बल्लेबाजी करने आ चुके हैं. शुभमन गिल ने पंजाब में एज ग्रुप क्रिकेट में और अंडर-19 में शानदार प्रदर्शन किया है. जूनियर स्तर पर वह लगातार सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे हैं. इसके अलावा, गिल ने भारत की 2018 में अंडर-19 वर्ल्ड कप की जीत में भी अहम भूमिका निभाई थी.
ऐसे में उनकी प्रतिभा और क्षमता को देखते हुए हम उम्मीद कर सकते हैं कि आने वाले वर्षों में गिल भारतीय टीम की बल्लेबाजी लाइन-अप का अहम हिस्सा बन सकते हैं.

खलील अहमद (Khaleel Ahmed)

खलील अहमद (Khaleel Ahmed)

भारतीय टीम को विश्व कप जिताने वाले जहीर खान और 2003 विश्व कप के फाइनल में पहुंचाने वाले आशीष नेहरा के बाद कोई अच्छा लेफ्ट आर्म फास्ट बॉलर नहीं मिल पाया है. महज 8 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलने वाले बरिंदर सरन से भारत को काफी उम्मीदें थी लेकिन वह उन पर खरा नहीं उतर पाए, वहीं अब खलील अहमद के आने से काफी उत्साह देखने को मिल रहा है.

राजस्थान के इस पेसर ने 2016 में अंडर-19 वर्ल्ड कप खेला और एक साल बाद फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया था. पिछले साल खलील ने एशिया कप के दौरान एकदिवसीय मैच में पदार्पण किया और अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया था. खलील अहमद 2019 के वर्ल्ड कप में वह भारत के तीसरे तेज गेंदबाज भी हो सकते थे. हालांकि, मोहम्मद शमी ने अपनी बेहतरीन गेंदबाजी से ये संभावना खत्म कर दी. वर्तमान में वह भारत की ए श्रेणी टीम का हिस्सा हैं और राष्ट्रीय टीम में खेलने के लिए उत्सुक होंगे.

श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer)

श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer)

मध्यक्रम की परेशानी से जूझ रही भारतीय बल्लेबाजी की परेशानियों का बड़ा हल श्रेयस अय्यर के रूप में टीम इंडिया को मिल सकता है. अपने डेब्यू मैच में तीन नंबर और फिर बाद में 5 नंबर पर बल्लेबाजी करने वाले श्रेयस अय्यर को अंतर्राष्ट्रीय मैचों में ज्यादा मौके नहीं मिले हैं. लेकिन अय्यर ने केवल 6 ODI और T20 मैच खेलकर 293 रन बनाए हैं हालांकि यह उनकी प्रतिभा और क्षमता के आगे कुछ भी नहीं है.

इस साल श्रेयस अय्यर की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स ने काफी सुधार किया और लगभग एक दशक बाद क्वालिफॉयर में जगह बनाई और जीत दर्ज की. भारतीय बल्लेबाजी में चौथे नंबर की पहेली के लिए श्रेयस अय्यर को आजमाया जा सकता है.

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw)

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw)

आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम की जीत के बाद 19 वर्षीय इस खिलाड़ी की तरफ सबका ध्यान गया. पृथ्वी शॉ ने 65.25 की औसत से 6 मैचों में 261 रन बनाए. वह नई बॉल के साथ और मुश्किल परिस्थितियों में बेहतरीन गेंदबाज साबित हुए. इसके बाद आईपीएल 2018 में भी उन्होंने अपना जलवा बिखेरा और दिल्ली के लिए 9 मैचों में 27.22 की औसत से 245 रन बनाए. आईपीएल में इस युवा खिलाड़ी का स्ट्राइक रेट 150 से ऊपर रहा.

अपनी परफॉर्मेंस के दम पर वह इंडिया A टीम का हिस्सा बने और वेस्टइंडीज-दक्षिण अफ्रीका A टीम के खिलाफ रन बनाए. नियमित तौर पर अच्छा प्रदर्शन करने के बाद उन्हें भारतीय टेस्ट टीम में भी जगह मिली. 2018 में राजकोट में वेस्टइंडीज के खिलाफ इस खिलाड़ी ने अपना टेस्ट डेब्यू किया और अपनी पहली इनिंग में ही शानदार शतक जड़ा. घायल होने की वजह से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वह नहीं खेल सके.

नवदीप सैनी (Navdeep Saini)

नवदीप सैनी (Navdeep Saini)

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाजों ने अपने प्रदर्शन से चौंकाया है. एक वक्त था जब हमें तेज गेंदबाजों के लिए भटकना पड़ता था लेकिन अब इनकी कोई कमी नहीं है. नवदीप सैनी इन्हीं फास्ट बॉलर्स में से एक है. वर्तमान में वह सबसे तेजी से उभरते हुए युवा गेंदबाज हैं. दिल्ली में पैदा हुए नवदीप सैनी ने 2013 में पदार्पण किया था और उसके बाद से कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. घरेलू क्रिकेट में वह विकेट झटकने में कामयाब रहे हैं. नवदीप सैनी अफगानिस्तान के खिलाफ एक टेस्ट मैच में भी टीम का हिस्सा रहे थे. नवदीप सैनी ने इंडिया ए टीम की तरफ से रविवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ 5 विकेट झटक कर अपनी मजबूत दावेदारी पेश की है.

श्रेयस गोपाल (Shreyas Gopal)

श्रेयस गोपाल (Shreyas Gopal)

श्रेयस गोपाल को भले ही कम तवज्जो मिल रही हो लेकिन घरेलू क्रिकेट में उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया है. वह कर्नाटक की तरफ से तीनों प्रारूपों में शानदार खेले हैं. लेग स्पिनर ने आईपीएल के पिछले कुछ सीजन्स में बढ़िया खेल दिखाया है. राजस्थान रॉयल्स में वह लीड स्पिनर हैं. वह गेंदबाजी में अपनी विविधता का अच्छा इस्तेमाल करते हैं. इसके अलावा, 25 वर्षीय श्रेयस बैट्समैन भी हैं और कर्नाटक के लिए नंबर-6 या 7 पर बल्लेबाजी करते रहे हैं. वह भारत की ‘A’ टीम का भी हिस्सा रहे हैं.

दीपक चाहर (Deepak Chahar)

दीपक चाहर (Deepak Chahar)

दीपक चाहर ने अपनी बेहतरीन लाइन और लेंथ की गेंदबाजी से प्रभावित किया है. 26 वर्षीय गेंदबाज जिस तरह से नई बॉल से स्विंग कराता है और डेथ ओवरों में यॉर्कर डालने की काबिलियत रखता है, उससे अगले वर्ल्ड कप में उन्हें जगह मिल सकती है. आईपीएल के दौरान भी वह तीसरे सबसे ज्यादा विकेट झटकने वाले गेंदबाज रहे थे. चाहर ने 7.47 की इकॉनमी के साथ कुल 22 विकेट लिए थे.

चेन्नई सुपर किंग्स के पेस अटैक की अगुवाई यही गेंदबाज कर रहा था. पूरे आईपीएल के दौरान चाहर ने नियमित तौर पर अच्छा प्रदर्शन किया.

दीपक चाहर 2017-18 में सैय्यद मुस्ताक अली टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज बने थे. वह 50 ओवरों के मैच में इंग्लैंड लॉयन्स के खिलाफ इंडिया A का हिस्सा रहे थे. तेज गेंदबाज ने 2018 में इंडियन टीम में एकदिवसीय और टेस्ट मैच में डेब्यू किया था लेकिन दोनों प्रारूपों में सिर्फ एक ही मैच खेला था. जब इस साल भारतीय टीम वेस्टइंडीज दौरे पर जाएगी तो उन्हें बेहतरीन मौका मिल सकता है.

First Published: Tuesday, July 16, 2019 07:30:03 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Shubhman Gill, Shreyas Iyer, Khaleel Ahmed, Navdeep Saini, Deepak Chahar,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो