स्पेशल

अन्य खबरें

इमरान खान की 'राष्ट्रीय शर्म' बनी 'सॉफ्ट डिप्लोमेसी', 2 करोड़ दें और प्रतिबंधित पक्षी का शिकार करें

पाकिस्तान में संरक्षित पक्षी होऊबारा बस्टर्ड (सोन चिरैया) को लुप्तप्राय माना गया है. इसके शिकार पर भी पाबंदी है. इसके बावजूद सरकार द्वारा शाही परिवार को शिकार की मंजूरी दी जाती है.

ये हैं बीजेपी की हार के सबसे बड़े कारण, जिससे फिसल गई झारखंड की कुर्सी

पीएम मोदी और अन्य राष्ट्रीय मुद्दे बेअसर रहे और बीजेपी को बीते एक साल में पांचवें राज्य में सरकार से हाथ धोना पड़ा.

Flashback 2019: Howdy मोदी में पीएम मोदी को मिला जबरदस्त सम्मान, पाकिस्तान की हुई फजीहत

ह्यूस्टन के लोगों ने इस कार्यक्रम का नाम 'Howdy Modi' दिया गया था. इस कार्यक्रम की टैगलाइन ‘साझा सपने, उज्ज्वल भविष्य’ आम आकांक्षाओं को पूरा करने के इरादे को दर्शाता है और यह आकांक्षा अमेरिका तथा भारत के महान लोकतंत्र को एक साथ लाना है.

CAA पर हिंसक विरोध-प्रदर्शनों को बैकअप दे रहे आतंकी संगठन

खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक प्रतिबंधित कट्टरपंथी संगठन PFI और SIMI कुछ राजनीतिक दलों की शह पर देश के विभिन्न हिस्सों में सीएए के खिलाफ धरना-प्रदर्शनों को हिंसक रूप देने की फिराक में हैं.

Flashback 2019 Mission Shakti: भारत की 'मिशन शक्ति' देख दंग रह गई दुनिया

एक तरफ तो भारत ने अपना सबसे बड़ा मिशन चंद्रयान 2 शुरू किया वहीं भारत की 'मिशन शक्ति' ('Mission Shakti') की ताकत देखकर दुनिया दंग रह गई.

Flashback 2019 Chandrayaan 2: जब भारत ने भरी चांद की उड़ान, दुनिया देखकर रह गई हैरान

चंद्रयान-2 को पृथ्वी की कक्षा में पहुंचाने की जिम्मेदारी इसरो ने अपने सबसे शक्तिशाली रॉकेट जियोसिंक्रोनस सेटेलाइट लांच व्हीकल- मार्क 3 (जीएसएलवी-एमके 3) को दी थी. इस रॉकेट को स्थानीय मीडिया से 'बाहुबली' नाम दिया गया था. जानिए कैसा था चंद्रयान 2 का चा

परवेज मुशर्रफ का पाकिस्तान के 'चीफ एक्जीक्यूटिव' से फांसी तक का सफर

पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार किसी तानाशाह को संविधान की अवहेलना कर 'स्वयंभू शासक' बनने पर मौत की सजा सुनाई गई है. विशेष अदालत की तीन सदस्यीय खंडपीठ ने मंगलवार को इस्लामाबाद में 2-1 के बहुमत से परवेश मुशर्रफ को राष्ट्रद्रोह के मामले में फांसी की स

Vijay Diwas: 1971 के युद्ध में चीन, अमेरिका भी न दे सके पाकिस्तान का साथ और टूट गया पाकिस्तान

1971 के युद्ध के अंत में पाकिस्तान के कुल 93,000 सैनिकों को सशस्त्र भारतीय सेना के शौर्य के सामने घुटने टेकने पड़े थे. इसी के बाद पूर्वी पाकिस्तान कहे जाने वाले इस जमीन के टुकड़े को नया नाम मिला 'बांग्लादेश'.

Vijay Diwas: अपनी इन गलतियों के कारण पाकिस्तान हार गया था 1971 का युद्ध

1971 के युद्ध की वो कहानी है जिसने पाकिस्तान के वजूद पर अपना प्रश्नचिन्ह लगा दिया और दुनिया को भारत ने दिखा दिया अपनी सैन्य शक्ति का दम. आइये जानते हैं कि अपनी किन गलतियों के कारण पाकिस्तान ये युद्ध हार गया था.

Vijay Diwas: 1971 युद्ध में इंदिरा गांधी का रहा था महत्वपूर्ण योगदान

ये 1971 के युद्ध की वो कहानी है जिसने पाकिस्तान के वजूद पर अपना प्रश्नचिन्ह लगा दिया और दुनिया को भारत ने दिखा दिया अपनी सैन्य शक्ति का दम.

Vijay Diwas, 1971 War: भारतीय वायुसेना का वो ऑपरेशन जिसने मजह 3 मिनट में तोड़ दी पाकिस्तान की कमर

जब भारत प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी (Former Prime Minister Indira Gandi) की अगुवाई में तरक्की कर रहा था, उसी वक्त पूर्वी पाकिस्तान (Eastern Pakistan) में पाकिस्तानी सेना आम जनता पर जुल्मों सितम कर रही थी.

न्यूज़ फीचर

मुख्य खबरें

वीडियो

फोटो