देश में डेटा एक्सचेंज बनाने की जरूरत : आईटी मंत्रालय

गोपालकृष्णन ने कहा कि यूजर्स को अलग-अलग एप्स के साथ अपना डेटा साझा करने वक्त सावधानी बरतनी चाहिए

  |   Updated On : August 14, 2018 07:04 PM
(सांकेतिक चित्र)

(सांकेतिक चित्र)

नई दिल्ली:  

अर्थव्यवस्था को समृद्ध करने में बिग डेटा और विश्लेषण की विशाल संभावना को पहचानते हुए इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय देश में डेटा एक्सचेंजों की स्थापना पर और इसके नफे-नुकसान पर विचार कर रहा है। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के संयुक्त सचिव गोपालकृष्णन एस. ने यहां उद्योग चेंबर फिक्की द्वारा आयोजित 'बिग डेटा एंड एनालिटिक्स कॉनक्लेव' में कहा, 'डेटा एक्सचेंज स्थापित करने की जरूरत है और आईटी मंत्रालय इस पर विचार कर रहा है।'

गोपालकृष्णन ने कहा कि यूजर्स को अलग-अलग एप्स के साथ अपना डेटा साझा करने वक्त सावधानी बरतनी चाहिए। उन्होंने कहा कि धोखाधड़ी का पता लगाने से लेकर सड़कों पर ट्रैफिक प्रबंधन, किसानों को फसलों के उत्पादन का अनुमान बताने से लेकर डॉक्टरों को बीमारी की सटीक पहचान करने में मदद करने ले लेकर बिग डेटा और एनालिटिक्स जीवन की कई समस्याओं को सुलझा सकता है।

और पढ़ें: Reliance Jio फीचर फोन बाजार में सबसे आगे : आईडीसी

उन्होंने कहा, 'यूजर्स स्मार्टफोन और अन्य डिवाइस का प्रयोग कर डेटा को अस्तित्व में लाते हैं। लेकिन, डेटा संचालित अर्थव्यवस्था में नागरिकों की निजता की रक्षा करने के लिए एक कानून बनाने की जरूरत है।'

First Published: Tuesday, August 14, 2018 06:34 PM

RELATED TAG: It Ministry, Data Exchanges In India, Data, India,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो