चंद्रयान-1 की मदद से भारत ने खोजा चांद पर बर्फ, NASA ने लगाई मुहर

भारत ने दस साल पहले इस अंतरिक्षयान का प्रक्षेपण किया था। सतह पर पर्याप्त मात्रा में बर्फ के मौजूद होने से इस बात के संकेत मिलते हैं कि आगे के अभियानों या यहां तक कि चंद्रमा पर रहने के लिए भी जल की उपलब्धता की संभावना है।

  |   Updated On : August 22, 2018 06:57 AM
चंद्रयान-1 से प्राप्त आंकडों से चंद्रमा पर बर्फ की उपस्थिति की पुष्टि (नासा द्वारा ट्वीट किया गया

चंद्रयान-1 से प्राप्त आंकडों से चंद्रमा पर बर्फ की उपस्थिति की पुष्टि (नासा द्वारा ट्वीट किया गया

नई दिल्ली:  

वैज्ञानिकों ने चंद्रयान-1 अंतरिक्षयान के आंकड़ों के आधार पर चंद्रमा के ध्रुवीय क्षेत्रों के सबसे अंधेरे और ठंडे स्थानों पर जल के जमे हुए स्वरूप में उपस्थित होने की पुष्टि की है। नासा ने मंगलवार (21 अगस्त) को इसकी जानकारी दी। भारत ने दस साल पहले इस अंतरिक्षयान का प्रक्षेपण किया था। सतह पर पर्याप्त मात्रा में बर्फ के मौजूद होने से इस बात के संकेत मिलते हैं कि आगे के अभियानों या यहां तक कि चंद्रमा पर रहने के लिए भी जल की उपलब्धता की संभावना है। 

'पीएनएएस' जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में कहा गया है कि बर्फ इधर-उधर बिखरे हुए हैं। दक्षिणी ध्रुव पर अधिकतर बर्फ लूनार क्रेटर्स के पास जमी हुई हैं। उत्तरी ध्रुव के बर्फ अधिक व्यापक तौर पर फैले हुए हैं लेकिन अधिक बिखरे हुए हैं।

वैज्ञानिकों ने नासा के मून मिनरेलॉजी मैपर (एम3) से प्राप्त आंकड़ों का इस्तेमाल कर यह दिखाया है कि चंद्रमा की सतह पर जल हिम मौजूद हैं। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा 2008 में प्रक्षेपित किये गए चंद्रयान-1 अंतरिक्षयान के साथ एम3 को भेजा गया था। 

और पढ़ें- UPSC CDS परीक्षा के आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ी, जानिए क्या है प्रक्रिया

ये जल हिम ऐसे स्थान पर पाये गए हैं, जहां चंद्रमा के घूर्णन अक्ष के थोड़ा झुके होने के कारण सूरज की रोशनी कभी नहीं पहुंच पाती। 

First Published: Tuesday, August 21, 2018 09:09 PM

RELATED TAG: Radar, Nasa, Moon Mineralogy Mapper, Moon, Indian Space Research Organisation, Exploration Of The Moon, Chandrayaan-1,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो