BREAKING NEWS
  • PAK को भारत के साथ कारोबार बंद करना पड़ा भारी, अब इन चीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 35% ज्यादा दाम- Read More »
  • मुंबई के होटल ने 2 उबले अंडों के लिए वसूले 1,700 रुपये, जानिए क्या थी खासियत- Read More »
  • भोजपुरी गानों में छाए मोदी और शाह, आर्टिकल 370 पर बना गाना 'ले लेबे जम्मू कश्मीर में जमीन' हुआ वायरल- Read More »

Ramadan 2019: रोजे में भूखा रहना ही काफी नहीं, इन बातों का भी रखें पूरा ध्यान

News State Bureau  |   Updated On : May 07, 2019 01:33 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

ख़ास बातें

  •  7 वर्ष की उम्र के बाद से हर एक इंसान के लिए रोजा रखना जरूरी
  •  छोटे बच्चों, प्रेग्नेंट महिलाओं, बीमार, सफर करने वाले को रोजा रखने की छूट
  •  रोजे के दौरान शारीरिक संबंध बनाने से रोजा टूट जाता है

नई दिल्ली:  

Ramadan 2019: रमजान का पवित्र महीना शुरू हो चुका है. यह महीना मुसलमान के लिए हर तरह से बहुत महत्वपूर्ण रखता है. बता दें कि ये इस्लामिक कैलेंडर का नौवां महीना होता है. इस्लामिक धर्म गुरुओं के मुताबिक रमजान के महीने में जन्नत यानी स्वर्ग के दरवाजें खुल जाते हैं.

यह भी पढ़ें: Ramadan 2019: पवित्र माह रमजान में जानें कब करें सेहरी और इफ्तार, पूरी टाइम टेबल देखें यहां

रोजा छोड़ने को माना जाता है गुनाह
इस्लामिक धर्म गुरुओं का मानना है कि इस्लाम धर्म में रोजा छोड़ने को गुनाह-ए-कबीरा माना जाता है. गुनाह-ए-कबीरा का मतलब होता है वह पाप जिसकी कोई माफी नहीं होती है. इस्लामिक किताबों के मुताबिक अल्लाह अपने बंदों से फरमाते हैं कि रोजा सिर्फ मेरे लिए है और रोजे का इनाम मैं खुद अपने बंदों को दूंगा. गौरतलब है कि इस्लाम में 7 वर्ष की उम्र के बाद से हर एक इंसान के लिए रोजा रखना जरूरी है. 7 साल की उम्र से छोटे बच्चों, प्रेग्नेंट महिलाओं, बीमार और सफर करने वाले को रोजा रखने की छूट दी गई है.

यह भी पढ़ें: रोजा रखने वाली Pregnant महिलाएं इन बातों का रखें ध्‍यान, आफत में नहीं पड़ेगी शिशु की जान

रोजा आखिर किन चीजों से टूटता है और किन चीजों से नहीं
ज्यादातर लोगों के मुताबिक रोजा रखने का मतलब सिर्फ भूखा प्यासा रहना ही होता है, जबकि ऐसा नहीं है. रोजे का मतलब सिर्फ खाने पीने की चीजों से दूरी बनाना नहीं है, बल्कि रोजा रखने के बाद इंसान को हर उस काम से दूर रहना पड़ता है, जिसकी इस्लाम धर्म में मनाही है. खाने पीने की चीजों से दूरी बनाने के साथ-साथ आंख, नाक, कान, मुंह सभी चीजों का रोजा होता है. रोजे के दौरान अगर कोई इंसान अनजाने में कुछ खा लेता है, तो इसकी वजह से रोजा नहीं टूटता है.

यह भी पढ़ें: Ramadan 2019: रमजान के रोजे की कल से है शुरुआत, आज पढ़ी जाएगी तरावीह की नमाज

इस्लामिक धर्म गुरुओं के मुताबिक रोजा रखने के बाद टूथपेस्ट नहीं करना चाहिए, क्योंकि टूथपेस्ट करने से रोजा टूट जाता है. रोजे के दौरान नहाने से भी रोजा नहीं टूटता है. रोजा रखकर सिर में तेल और आंखों में सुरमा दोनों ही लगाएं जा सकते हैं. कोई शख्स जानकर गले में नमी लाने के लिए अपना थूक निगलता है तो इससे रोजा टूट जाता है. रोजे के दौरान नाक, कान और आंख में दवाई डालने के लिए भी मना किया जाता है. सिगरेट पीने, पान चबाने, तंबाकू खाने से भी रोजा टूट जाता है. रोजे के दौरान शारीरिक संबंध बनाने से भी रोजा टूट जाता है.

यह भी पढ़ें: Ramadan 2019: रमजान में रखेंगे रोजा तो भूलकर भी न करें ये गलतियां

First Published: Tuesday, May 07, 2019 01:33:45 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Ramadan 2019 In India, Ramadan 2019, Ramadan 2019 Time Table, Ramadan 2019 Prayer Times,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो