महाशिवरात्रि पर मंदिरों में उमड़ा भक्तों का सैलाब, जानें पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

शिव जी को दूध, जल, बिल्वपत्र, चंदन, आक, धतूरा, भांग, चावल, रोली, मोली, केसर, गाजर और बेर अर्पण करने पर वह प्रसन्न हो जाते हैं।

  |   Updated On : February 13, 2018 08:04 AM
आज पूरे देश में महाशिवरात्रि का पर्व हर्षोल्‍लास के साथ मनाया जा रहा है

आज पूरे देश में महाशिवरात्रि का पर्व हर्षोल्‍लास के साथ मनाया जा रहा है

नई दिल्ली:  

आज पूरे देश में महाशिवरात्रि का पर्व हर्षोल्‍लास के साथ मनाया जा रहा है। शिव मंदिरों में सुबह से ही श्रद्धा का सैलाब उमड़ा हुआ है। भक्त लंबी लाइन में लगकर महादेव के दर्शन कर रहे हैं। श्रद्धालु दूध और जलाभिषेक कर महादेव से मनोकामनाएं मांग रहे हैं।

मान्यताओं के मुताबिक, शिव जी को दूध, जल, बिल्वपत्र, चंदन, आक, धतूरा, भांग, चावल, रोली, मोली, केसर, गाजर और बेर अर्पण करने पर वह प्रसन्न हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें: घर-ऑफिस में गुड लक के लिए क्यों रखते हैं लाफिंग बुद्धा?

इन मंत्रों का करें जाप

इस दौरान 'ओम नम: शिवाय' और 'बम बम भोले' के जयघोष से भोलेनाथ के दर गूंजे हुए हैं। भक्तों का कहना है कि महाशिवरात्रि पर शिव की भक्ति करने से मनोकामना पूरी होती है।

पूजा का शुभ मुहूर्त

इस बार महाशिवरात्रि 13 और 14 यानि दो दिन मनाई जा रही है। सुबह 7 बजे से ही पूजा शुरू कर सकते हैं। 13 तारीख को 11:15 से दोपहर 3:30 बजे तक शिव की आराधना करें। श्रवण नक्षत्र 14 फरवरी की सुबह शुरू होगा तो इसी दिन शिवरात्रि मनाना अच्छा रहेगा।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में बैन 'पैडमैन', सेंसर बोर्ड पर भड़की महिलाएं

First Published: Tuesday, February 13, 2018 07:57 AM

RELATED TAG: Mahashivratri 2018,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो