BREAKING NEWS
  • ये है दुनिया का सबसे धनी परिवार, एक घंटे में होती है 28 करोड़ रुपये से भी ज्यादा कमाई- Read More »
  • आर्थिक मंदी से घबराए बीजेपी नेता के बेटे ने की आत्महत्या, एक साल पहले हुई थी शादी- Read More »
  • PKL 7: दबंग दिल्ली और बंगाल वॉरियर्स के बीच खेला गया रोमांचक मैच, 30-30 अंकों पर टाई हुआ मैच- Read More »

कुंभ नगरी में आज से प्रयागराज परिक्रमा शुरू, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने की पहल

Manvendra Singh  |   Updated On : February 06, 2019 02:29 PM
कुंभ नगरी में आज से प्रयागराज परिक्रमा शुरू

कुंभ नगरी में आज से प्रयागराज परिक्रमा शुरू

प्रयागराज:  

कुंभ नगरी में आज (बुधवार) से प्रयागराज परिक्रमा शुरू होने वाली है, विलुप्त हो रही प्रयागराज परिक्रमा को फिर से शुरु कराने का बीड़ा अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने उठाया है. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और अखाड़ा परिषद की पहल पर प्रयागराज परिक्रमा का रूट तय किया जा चुका है. बुधवार को प्रयागराज परिक्रमा की शुरुआत पूरे विधि विधान के साथ संगम तट से होगी. अखाड़ा परिषद के साधु संत संगम तट पर पूजा पाठ के साथ पौराणिक महत्व वाले प्रयागराज परिक्रमा करके श्रद्धालुओं को इसके बारे में विस्तार से जानकारी देंगे.प्रयागराज परिक्रमा के इस मौके पर अखाड़ा परिषद के साधु संतो के साथ ही जिले और कुंभ मेला प्रशासन के अधिकारी शामिल होंगे.

यह भी पढ़ेंक्‍या BJP और विश्‍व हिंदू परिषद में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा, राम मंदिर पर चौंकाने वाला फैसला

अखाड़ा परिषद के महामंत्री ने बताया कि प्रयागराज परिक्रमा सदियों से चली आ रही थी. लेकिन मुगलों के शासनकाल के दौरान इस परंपरा को समाप्त कर दिया गया था. यही वजह है, कि जानकारी ना होने की वजह से बहुत ही कम श्रद्धालू प्रयागराज परिक्रमा के बारे में जानते और करते हैं . लेकिन इस कुंभ मेले से पहले अखाड़ा परिषद ने सीएम योगी से मुलाकात कर प्रयागराज परिक्रमा को पुनर्जीवित करने की योजना तैयार की. जिसके तहत अखाड़ों ने प्रयागराज की प्राचीनतम द्वादश माधव मंदिर के साथ ही भारद्वाज आश्रम और नाग वासुकी मंदिर का निरीक्षण किया. इसके साथ ही धर्म नगरी प्रयागराज के पौराणिक महत्व वाले प्राचीनतम मंदिरों को इस परिक्रमा मार्ग में शामिल किया गया है.

यह भी पढ़ें- KUMBH 2019: 9 साल से एक ही पैर पर खड़े हैं हरवंश गिरी उर्फ खड़े श्री बाबा, श्रद्धालुओं में दर्शन के लिए मची होड़

आज से शुरू होने वाली इस परिक्रमा को अखाड़े के साधु संत तीन दिनों में पूरा करेगे. इसके साथ ही कुंभ मेला में आने वाले श्रद्धालुओं को भी तीर्थराज प्रयाग की परिक्रमा का महत्व बताया जाएगा और उन्हें परिक्रमा करने से मिलने वाले पुण्य और लाभ की जानकारी दी जाएगी. जिससे कि कुंभ मेला में आने वाले सभी तीर्थयात्री संगम स्नान करने के साथ ही प्रयागराज की परिक्रमा करके पुर्ण लाभ कमा सकें . प्रयागराज परिक्रमा फिर से पुराने स्वरुप में शुरु होगी तो जिले में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा और लोगो को रोजगार भी मिलेगा. इसके साथ ही पूरे साल संगम आने वाले श्रद्धालू प्रयागराज की परिक्रमा कर पुण्य अर्जित कर सकेंगे .

First Published: Wednesday, February 06, 2019 02:10 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Kumbh2019, Kumbhmela, Inauguration Of Prayagraj Parikrama, Kumbh, All India Akhara Parishad Initiatives,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो