BREAKING NEWS
  • OMG : इस भारतीय खिलाड़ी ने 22 गेंदों में जड़ दिया शतक, 12 चौके और दस छक्‍के- Read More »
  • महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा तो सुप्रीम कोर्ट जाएगी शिवसेना- सूत्र- Read More »

प्रयागराज : कुंभ मेले के पंडाल में लगी आग, कोई हताहत नहीं

News State Bureau  |   Updated On : January 19, 2019 07:20:50 PM
14 जनवरी को लगी आग का दृश्य (फाइल फोटो : IANS)

14 जनवरी को लगी आग का दृश्य (फाइल फोटो : IANS) (Photo Credit : )

प्रयागराज:  

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेला परिसर के सेक्टर-13 स्थित पंडाल में आग लग गई जिसके बाद वहां अफरातफरी मच गई. घटनास्थल पर 3 दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची थी और जिसके बाद आग पर काबू पा लिया गया. घटना से किसी श्रद्धालु के हताहत होने की खबर नहीं है. बिजली के शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगने की आशंका जताई जा रही है. ज्यादा जानकारी मिलने पर खबर को अपडेट किया जाएगा.

इससे पहले भी 14 जनवरी को कुंभ मेला शुरू होने से पहले सेक्टर-13 स्थित तंबुओं में ही आग लगी थी. आग लगने की वजह से बड़े क्षेत्र में लगे तंबू जलकर खाक हो गए थे. अधिकारियों ने बताया था कि 'दिगंबर अखाड़ा' शिविर में एक खाना पकाने वाले गैस सिलेंडर में विस्फोट की वजह से कुंभ परिसर के सेक्टर 13 में आग लगी थी.

कुंभ में टेंट का किराया 2,100 रुपये से लेकर 20,000 रुपये प्रति रात तक है. इसके अलावा बड़ी संख्या में यहां पहुंचने वाले अखाड़ों और संतों के लिए डोर्मेटरी और टेंट स्टॉल लगाए गए हैं.

इमर्जेंसी मदद के लिए कुंभ में तैयारी

पुलिस, प्रशासन और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के समन्‍वय में ऐसा प्लान तैयार किया गया है, जिससे भगदड़ से लेकर केमिकल और न्यूक्लियर हमलों तक की स्थिति से निपटने में मदद मिल सकेगी.

आपदा प्रबंधन के नोडल ऑफिसर डॉ. ऋषि सहाय ने बताया कि मेले में भगदड़, नाव पलटने से लेकर विस्फोट, केमिकल और न्यूक्लियर हमलों तक की स्थिति से निपटने की तैयारी की गई है. आपदा के नजरिए से मेले को 36 क्षेत्रों में बांटा गया है और हर क्षेत्र में एक क्विक मेडिकल रेस्पॉन्स टीम तैनात रहेगी जो सिर्फ दो मिनट में स्पॉट पर पहुंचेगी.

आपदा के नजरिए से प्रोटोकॉल भी तैयार किया गया है. 80 एम्बुलेंस, 4 रिवर एम्बुलेंस और एक एयर एम्बुलेंस भी तैनात रहेगी. इसके साथ ही एयर फोर्स की टीम भी आपदा की स्थिति में मदद के लिए तैयार रहेगी. एम्बुलेंस के लिए आपदा प्रबंधन टीम को आर्मी की मेडिकल कोर, विस्फोटक विशेषज्ञों और एनडीआरएफ से ट्रेनिंग दिलवाई गई है.

First Published: Jan 19, 2019 06:48:05 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो