अक्षय तृतीया 2018: जानें मुहूर्त का समय, सालों बाद बन रहा है ये शुभ संयोग

अक्षय तृतीया पर कई सालों बाद शुभ योग बन रहा है। पुराणों के अनुसार, त्रेता युग का प्रारंभ भी इसी दिन हुआ था। साथ ही बद्रीनाथ धाम में नारायण का अवतार हुआ था।

  |   Updated On : April 18, 2018 01:49 PM
अक्षय तृतीया 18 अप्रैल को मनाई जाएगी

अक्षय तृतीया 18 अप्रैल को मनाई जाएगी

नई दिल्ली:  

अक्षय तृतीया पर कई सालों बाद शुभ योग बन रहा है। यह 18 अप्रैल को मनाया जाएगा। इसे पूरे साल का सबसे शुभ दिन मानते हैं।

अक्षय तृतीया का प्रारंभ 17 अप्रैल की रात 3:45 बजे से शुरू होगा और 18 अप्रैल की रात 1:45 पर समाप्त होगा।

पुराणों के अनुसार, त्रेता युग का प्रारंभ भी इसी दिन हुआ था। साथ ही बद्रीनाथ धाम में नारायण का अवतार हुआ था।

बन रहा है ये संयोग

18 अप्रैल को सूर्योदय के समय सूर्य मेष राशि में रहेगा। कृतिका नक्षत्र के प्रथम चरण में है और सूर्य मेष राशि में है। ऐसा संयोग सैकड़ों साल बाद आता है।

अक्षय तृतीया के दिन पिंड के बिना भी श्राद्ध करने का विधान है। गंगा और तीर्थ स्नान का विशेष महत्व है। इसीलिए जल से भरा कलश, भूमि और गोदान करते हैं। जिसकी कुंडली में पितर दोष है, वह पितरों का पिंडदान और तर्पण कर सकते हैं।

अक्षय तृतीया पर सोना खरीदना, जमीन खरीदना, गृह प्रवेश और तीर्थयात्रा शुभ माना जाता है।

ऐसा माना जाता है कि इस दिन मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है।

ये भी पढ़ें: IPL 2018 Live: दिल्ली डेयरडेविल्स ने जीता टॉस, गेंदबाजी का फैसला

First Published: Monday, April 16, 2018 07:48 PM

RELATED TAG: Akshaya Tritiya 2018,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो